सब ठीक तो है ना- नितिन गडकरी ने की पंडित नेहरू की तारीफ तो पूछने लगे बॉलीवुड एक्टर; लोग भी करने लगे ऐसे कमेंट

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने एक कार्यक्रम में पंडित जवाहर लाल नेहरू की तारीफ की। उनकी इस बात को लेकर अब बॉलीवुड एक्टर ने सवाल किया है।

nitin gadkari, corona vaccine, corona virus केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (एक्सप्रेस फोटो: प्रेम नाथ पांडेय )

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने बीते बुधवार को ‘न्यूज नेशन’ के एक कार्यक्रम में भारत के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू की तारीफें की थीं। उन्होंने पंडित नेहरू व अटल बिहारी बाजपेयी को आदर्श नेता बताया था, साथ ही कहा था कि ये हिंदुस्तान के लोकतंत्र के दो आदर्श नेता थे। वे दोनों ही कहते थे कि मैं अपने लोकतांत्रिक मर्यादा का पालन करुंगा। नितिन गडकरी के इस बयान को लेकर अब बॉलीवुड के मशहूर एक्टर कमाल राशिद खान ने ट्वीट किया है, जो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है।

कमाल राशिद खान ने ट्वीट में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के पंडित जवाहर लाल नेहरू के लिए दिए गए बयान पर चुटकी ली। एक्टर ने ट्वीट में लिखा, “नितिन गडकरी जी ने पंडित जवाहर लाल नेहरू की तारीफ की और कहा कि हम सभी को नेहरू जी से कुछ सीखना चाहिए। सब ठीक तो है ना।”

कमाल राशिद खान के इस ट्वीट को लेकर सोशल मीडिया यूजर ने भी जमकर कमेंट किये। रॉय नाम के यूजर ने केआरके का जवाब देते हुए लिखा, “वह भाजपा के अनुभवशाली नेताओं में से एक हैं। कई बार यह मन की बात भी कर देते हैं।” तकहीद नाम के यूजर ने लिखा, “कल्पना कीजिए कि नितिन गडकरी ने कांग्रेस ज्वॉइन कर ली है और 2024 में पीएम पद के उम्मीदवार बन गए हैं।”

अमित जैन ने कमाल राशिद खान के ट्वीट के जवाब में लिखा, “2024 में मोदी जी के प्रतिस्थापन के लिए बेस्ट ऑप्शन।” धीरज पांडे नाम के यूजर ने लिखा, “अच्छी बात है, जहां से भी मिले ज्ञान लेना ही चाहिए।” बता दें कि कमाल राशिद खान के अलावा पुण्य प्रसून बाजपेयी ने भी नितिन गडकरी के बयान पर ट्वीट किया था।

पुण्य प्रसून बाजपेयी ने नितिन गडकरी द्वारा पंडित नेहरू की तारीफ करने पर लिखा था, “आजादी कोई देता नहीं है, आजादी ली जाती है।” बता दें कि पंडित नेहरू और अटल बिहारी वाजपेयी को याद करते हुए नितिन गडकरी ने कहा था, “इस लोकतंत्र को सफल बनाने के लिए मजबूत विपक्ष आवश्यक है। नेहरू ने हमेशा ही वाजपेयी जी का सम्मान किया था और कहा भी था कि विपक्ष भी जरूरी है।”