सरकारी संपत्ति पर कब्जा करने वालों का एक ही उपचार- बुल्डोजर, बोले CM योगी तो लोग करने लगे ऐसे सवाल

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि सरकारी संपत्ति और निर्दोष लोगों की संपत्ति पर अवैध कब्जा करने वालों का एक ही उपाय है, बुलडोजर।

yogi adityanath, up cm, bjp मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सरकारी संपत्ति पर अवैध कब्ज़ा करने वालों को चेतावनी दी है (File Photo)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की एक टिप्पणी को लेकर लोग उनकी नीतियों पर सवाल उठाने लगे हैं। दरअसल उन्होंने सरकारी संपत्ति और निर्दोष लोगों की संपत्ति पर अवैध कब्जा करने वालों को चेतावनी दी है और कहा है कि उनका एक ही उपचार है- बुलडोजर।

यूपी के मुख्यमंत्री ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से किए गए एक ट्वीट में लिखा, ‘निर्दोष लोगों की संपत्ति व सरकारी संपत्ति पर अवैध कब्जा करने वालों का एक ही उपचार है- बुलडोजर।’

उनके इस ट्वीट पर लोग राज्य सरकार की नीतियों पर सवाल उठाते हुए अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं। रवि कुमार नाम के एक यूजर ने लिखा, ‘महोदय यहां तक आने में तो आपका बुलडोजर भी फेल हो गया। करीब 200 किसानों की 1000 बीघा जमीन भू माफिया ने हड़प रखी है। कॉलेज माफिया भी है। किसानों के पास एक से एक पुख्ता सबूत भी मौजूद है।’

परशाद रमजान अली नाम के एक यूजर ने सवाल किया, ‘लेकिन आपके अधिकारी मिलकर ही कब्जा करा रहे हैं।’ यूजर ने वाराणसी का की 4000 वर्ग फीट सड़क की जमीन का ब्योरा देते हुए योगी आदित्यनाथ से पूछा, ‘यहां कब चलेगा बुलडोज़र?’

डी सिंह नाम के एक यूजर ने लिखा, ‘और रोजगार छीनने वाले भ्रष्ट अधिकारियों का क्या इलाज है? कार्रवाई होगी या उनको आपका नाम खराब करते रहना है? ये भी बता देते।’

प्रिंस शुक्ला नाम के एक यूजर ने योगी आदित्यनाथ को जवाब दिया, ‘माननीय मुख्यमंत्री महोदय जी, उक्त प्रकरण में उपजिलाधिकारी हरैया का रिपोर्ट लगा हुआ है कि बंजर भुमि पर अतिक्रमण है। उपजिलाधिकारी कार्यालय से नोटिस, 115Cकी रिपोर्ट सब लगा दी गई है पर अब तक दबंगों से बंजर भूमि खाली नहीं कराई जा सकी।’

आनंद भाई नाम के एक यूजर ने भाजपा विधायक रहे कुलदीप सिंह सेंगर की तस्वीर शेयर करते हुए योगी आदित्यनाथ से पूछा, ‘ये आपकी सरकार में विधायक थे, बलात्कारी और हत्या के आरोपी। कहां और कितना बुलडोजर चला, मुख्यमंत्री जी हमें भी बताएं?’

पोनी जाट नाम के एक यूजर तंज के अंदाज़ में लिखते हैं, ‘सरकारी संपत्ति पर कब्जा अडानी अंबानी का हो रहा है, उस पर बुलडोजर? खैर जाने दो साहब, क्या हिंदू अब देश भी नहीं बेच सकता।’