सरकार मान नहीं रही, लंबा चलेगा धरना- राकेश टिकैत बोले, ट्रैक्टर में तेल डलवाकर रखो, कभी भी हो सकती है कॉल

राकेश टिकैत ने कहा था- अब सारे के सारे किसान इस लड़ाई में हैं और लड़ाई राजस्थान से ही लड़ी जाएगी। यहां के लोग गर्मी में भी लड़ाई लड़ना जानते हैं। इस दौरान राकेश टिकैत ने कहा कि..

Rakesh Tikait, BKU, India News

पिछले 90 दिनों से ज्यादा समय बीत चुका है। देशभर से आए किसान दिल्ली से सटे सीमाओं पर अभी भी आसन लगाए बैठे आंदोलन कर रहे हैं। किसान केंद्र सरकार द्वारा पारित किए गए तीनों कृषि कानून को रद्द करने की मांग कर रहे हैं। ऐसे में किसान नेता राकेश टिकैत का कहना है कि किसान अपने ट्रैक्टर पर पेट्रोल फुल कराके रखें, बुलावा कभी भी आ सकता है।

राकेश टिकैत ने किसान आंदोलन को  लेकर आगे कहा- ‘दिशा निर्देश.. देंगे कभी हो बस तैयार रहो, कभी भी बुला सकते हैं। बस ट्रैक्टर में तेल भरवा कर रखो। कभी भी जाना पड़ सकता है। ये किसानों का मंच है। गांव के लोग जो सवाल करेंगे तो उसका तो जवाब देना चाहिए ना तुमको? गांव के लोग तो कह रहे हैं कि जो सरकार कह रही है उसके लिए लोग अपनी पेंशन छोड़ रहे हैं, सलेंडर सब्सिडी छोड़ रहे हैं। क्या एमएलए हैं जितने ये अपनी पेंशन छोड़ देंगे? आगे का धरना चलता रहेगा। किसान खेत में काम करते रहें, दिल्ली की तरफ निगाह रखे रहें। बस ट्रैक्टर में तेल भरके बस खड़े करके रखें।’

बता दें, पिछले दिनों हरियाणा की एक महापंचायत में राकेश टिकैत ने कहा था कि अब की बार 4 लाख नहीं बल्कि 40 लाख ट्रैक्टर दिल्ली जायेंगे। साथ ही उन्होंने कहा था कि इसकी तारीख संयुक्त किसान मोर्चा के लोग मिलकर तय करेंगे। इतना ही नहीं कहा तो ये भी गया था कि इंडिया गेट की जमीन पर खेती की जाएगी।

राकेश टिकैत ने कहा था- अब सारे के सारे किसान इस लड़ाई में हैं और लड़ाई राजस्थान से ही लड़ी जाएगी। यहां के लोग गर्मी में भी लड़ाई लड़ना जानते हैं। इस दौरान राकेश टिकैत ने कहा कि अब की बार लालकिले के बजाय संसद पर किसानों के ट्रैक्टर पहुँचेंगे। राकेश टिकैत ने कहा कि लालकिले में हमारे लोगों को फंसाने का काम किया गया। सरकार ने सरदार बिरादरी को बर्बाद करने का काम किया।