सांसें थम गईं लेकिन प्रोजेक्ट नहीं थमा- सेंट्रल विस्टा के निर्माण को लेकर पुण्य प्रसून बाजपेयी ने मारा सरकार को ताना

कोविड-19 महामारी के बीच भी सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट का निर्माण कार्य जारी है। इस मामले को लेकर पुण्य प्रसून बाजपेयी ने ट्वीट कर सरकार पर तंज कसा है।

central vista, central vista project

लॉकडाउन के बीच भी सेंट्रल विस्टा का निर्माण कार्य जारी है। सुप्रीम कोर्ट ने भी बुधवार को सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट का काम स्थगित करने के लिए दायर याचिका को स्वीकार करने में असमर्थता जताई थी। चीफ जस्टिस ने इस मामले पर कहा था कि जज उपलब्ध नहीं हैं, और मैं किसी भी जज को मजबूर नहीं कर सकता। वहीं, इस मामले को लेकर मशहूर पत्रकार पुण्य प्रसून बाजपेयी ने ट्वीट किया है, साथ ही उन्होंने सरकार पर भी निशाना साधा है।

पुण्य प्रसून बाजपेयी ने अपने ट्वीट में लॉकडाउन के दौरान भी जारी सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट के निर्माण कार्य को लेकर तंज कसा। उन्होंने निर्णाण कार्य से जुड़ी एक तस्वीर साझा करते हुए लिखा, “दिल्ली में राजपथ का एक नजारा। सांसें थमीं पर सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट नहीं थमा।”

पुण्य प्रसून बाजपेयी के इस ट्वीट को लेकर सोशल मीडिया यूजर ने भी खूब कमेंट किये। सिद्धार्थ नाम के एक यूजर ने उनसे सहमति जताते हुए लिखा, “बिल्कुल सही सर, शर्मनाक।” वहीं, आनंद नाम के एक यूजर ने लिखा, “क्या ये बनाना जरूरी है अभी।” आशुतोष नाम के एक यूजर ने लिखा, “कम से कम मजदूरों के पास इस संकट की घड़ी में अपने परिवार का पेट भरने के लिए काम तो है।”

बता दें कि पुण्य प्रसून बाजपेयी ने इससे पहले भी सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट और कोरोना के बीच फैली अव्यवस्थाओं को लेकर सरकार पर निशाना साधा था। अपने एक ट्वीट में उन्होंने लिखा, “दवाई/ऑक्सीजन की कालाबाजारी बंद होनी चाहिए। सांसद/विधायक की खरीद-फरोख्त भी बंद होनी चाहिए।”

इसके अलावा अपने एक ट्वीट में पुण्य प्रसून बाजपेयी ने पीएम मोदी को ताना मारते हुए लिखा, “दवाइयों की कालाबाजारी…अप्रैल में चरम पर बेरोजगारी, विदेशी मदद एयरपोर्ट पर अटकी पर राजा जी का नया घर बन रहा है। देश में सरकार है कहां और कौन चला रहा है?”

बता दें कि सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट को स्थगित करने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की गई थी। इसमें कहा गया था कि कोविड महामारी के मद्देनजर मजदूरों को यहां से वहां ले जाना बंद हो ताकि संक्रमण न फैले। याचिका में दिल्ली डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी के आदेश के मद्देनजर सेंट्रल विस्टा का काम रोकने की अपील की गई थी।