सायरा बानो के साथ रोमांटिक सीन शूट करने से पहले प्याज खा लिया करते थे सुनील दत्त, दिलीप कुमार के सामने सुनाया था किस्सा

सायरा बानो ने एक इंटरव्यू में बताया था कि सुनील दत्त उनके साथ रोमांटिक सीन शूट करने से पहले जानबूझकर प्याज खा लिया करते थे। वह एक बेहतरीन कॉमेडियन भी थे।

saira banu, dilip kumar, बॉलीवुड की मशहूर एक्ट्रेस सायरा बानो और दिलीप कुमार (फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस)

‘लहू पुकारेगा’, ‘काला आदमी’, ‘पड़ोसन’ में सायरा बानो और सुनील दत्त की जोड़ी नजर आई थी। इसमें पड़ोसन दोनों के करियर की सुपरहिट फिल्मों में से एक थी। सुनील दत्त उन दिनों इंडस्ट्री में अपने पैर जमा रहे थे, जबकि सायरा बानो के साथ भी कुछ-कुछ ऐसा ही था, लेकिन वह अपनी पहचान स्थापित कर चुकी थीं। इसी दौरान सुनील दत्त और दिलीप कुमार के बीच अच्छी दोस्ती की शुरुआत भी हो गई थी। दोनों एक-दूसरे के पड़ोसी भी थे।

टीवी शो ‘जीना इसी का नाम है’ में दिलीप कुमार के साथ सायरा बानो बतौर गेस्ट आई थीं। सामने से सुनील दत्त भी थे। सुनील दत्त ने दिलीप कुमार के साथ अपने रिश्तों पर कहा था कि जब भी वह परेशान या अकेलापन महूसस करते थे तो वो उनके घर पर चले जाते थे। सायरा बाने ने सुनील दत्त की कॉमेडी टाइमिंग की तारीफ करते हुए किस्सा सुनाया था जब वह फिल्म का रोमांटिक सून शूट होने से पहले जानबूझकर प्याज़ खा लिया करते थे।

सायरा बानो ने बताया था, ‘सुनील दत्त साहब कमाल के को-आर्टिस्ट हैं। इनके साथ काम करना एक पिकनिक पर जाने जैसा होता था। पड़ोसन में तो हंसी के कारण बहुत ज्यादा रीटेक हो जाया करते थे। फिल्म में मेरे साथ कमाल के आर्टिस्ट थे और ये लोग उतने ही ज्यादा कॉमेडी भी करते थे। लाइट्स ऑफ हो जाती थीं क्योंकि मेरी हंसी ही नहीं रुक पाती थी। दत्त साहब के साथ जब कोई रोमांटिक सीन होता था तो प्याज की थाली मंगवा लिया करते थे।’

सायरा बाने ने आगे बताया था, ‘प्याज के नाम से ही सबको डर लगने लगता था। अब सोचिए रोमांटिक सीन से पहले प्याज आती थी। हम सबको डराया जाता था कि रोमांटिक सीन होने वाला है तो प्याज खाया जाता था। अब ऐसे में आप कैसे रोमांटिक सीन शूट करेंगे किसी के साथ।’

सुनील दत्त ने कर दी थी फिल्म रिजेक्ट: सायरा बानो कहती हैं, ‘अब भले ही पड़ोसन फिल्म सुपरहिट हो गई। लेकिन दत्त साहब बिल्कुल भी उस किरदार को निभाना नहीं चाहते थे। वह कहते थे कि सायरा जी हम लोग कैसे रोल कर रहे हैं। मतलब बांगड़ू का रोल कौन करेगा?’ दिलीप कुमार कहते हैं, ‘वो वाकई में शानदार फिल्म थी। मतलब वैसी फिल्म तो कोई हो ही नहीं सकती है।’