सुनने-बोलने में अक्षम लोगों के साथ वीड‍ियो कॉल‍िंग आसान करेगा लिंगोकैप

excerptwww.lingocap.in पर वीडियो संचार के लिए रीयल टाइम स्पीच कैप्शनिंग की सुव‍िधा है। दादा से बातचीत में परेशानी आने पर पोते ने बनाई साइट।    

video call for deaf, video call app for deaf, video phone call for the deaf, लिंगोकैप की मदद से सुनने-बोलने में अक्षम लोग भी वीडीयो कॉल कर सकेंगे। (फोटोः जनसत्ता ऑनलाइन )

सामाजिक न्याय और अधिकारिता राज्य मंत्री, श्री रामदास अठावले ने 26 अगस्त 2021 को एक संचार पोर्टल लिंगोकैप (www.lingocap.in) लॉन्च किया। यह बोलने और सुनने में द‍िक्‍कत महसूस करने वाले लोगों (मूक-वध‍िर) की मदद के ल‍िए लॉन्‍च क‍िया गया है। यह पांच भारतीय भाषाओं में काम करता है। यहां वीडियो संचार के लिए रीयल टाइम स्पीच कैप्शनिंग की सुव‍िधा है।

लिंगोकैप शिवांश कुलश्रेष्ठ ने बनाया है। वह दिल्ली पब्लिक स्कूल, वसंत कुंज में 11वीं के छात्र हैं। भारत में बोलने और सुनने में अक्षम लोगों की संख्या 75 लाख से अध‍िक बताई जाती है। श‍िवांश के दादा भी इनमें से एक थे।

श‍िवांश के दादा को सुनने में समस्‍या होती थी। 2020 की शुरुआत में वह इलाज के ल‍िए जयपुर गए। उनके साथ संवाद करने में कठिनाई हो रही थी, क्योंकि ज़ूम, गूगल मीट्स या स्काइप जैसे आधुनिक वीडियो-संचार माध्यम  में से किसी ने भी भारतीय भाषाओं के लिए कैप्शनिंग प्रदान नहीं की थी। तब श‍िवांश को लगा यह बड़ी समस्‍या है और इसके समाधान को ध्‍यान में रख कर  उन्‍होंने लिंगोकैप बनाया। 

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग प्लेटफॉर्म के रूप में, इसमें सभी मानक सुविधाओं जैसे ब्रेकआउट रूम, स्क्रीन शेयरिंग, व्हाइट बोर्ड संचार सह‍ित कई सुव‍िधाएं हैं। आगे इसका एंड्रॉइड और आईओएस के लिए मोबाइल ऐप लॉन्च करने की योजना है।