स्कूली छात्र ने महात्मा गांधी पर दिया ऐसा भाषण, कुमार विश्वास बोले- सभी युवा वॉट्सऐप विश्वविद्यालय में नहीं पढ़ रहे

स्कूली छात्र के द्वारा महात्मा गांधी को लेकर दिए गए भाषण के वीडियो को प्रसिद्ध कवि कुमार विश्वास ने अपने अकाउंट से रीट्वीट करते हुए लिखा कि सभी युवा व्हाट्सएप विश्वविद्यालय में नहीं पढ़ रहे। कुछ सचमुच में भी पढ़-समझ रहे हैं।

आज देशभर में महात्मा गांधी की जयंती खूब धूमधाम से मनाई जा रही है। (फोटो: विकीमीडिया कॉमंस)

आज देश भर में महात्मा गांधी की जयंती मनाई जा रही है और पूरा देश उनको याद कर रहा है। लेकिन आज उनके अपने देश में ही उनके बारे में जमकर अफवाह भी उड़ाई जा रही है। इसी बीच गांधी जयंती पर एक स्कूली छात्र द्वारा महात्मा गांधी पर दिया गया भाषण खूब वायरल हो रहा है। कवि कुमार विश्वास ने भी स्कूली छात्र के भाषण को अपने ट्विटर अकाउंट से शेयर करते हुए लिखा कि सभी युवा वॉट्सऐप विश्वविद्यालय में नहीं पढ़ रहे।

कुटज नाम के एक ट्विटर हैंडल से गांधी जयंती व शास्त्री जयंती के मौके पर एक स्कूली छात्र के द्वारा दिया भाषण शेयर किया गया। अपने भाषण में स्कूली छात्र कवि कैलाश गौतम के द्वारा भोजपुरी में लिखी गई पंक्ति को गाते हुए महात्मा गांधी और लाल बहादुर शास्त्री को याद कर रहा है। साथ ही वह अपने भाषण में सिर्फ एक दिन के लिए महापुरुषों को याद करने वाले नेताओं पर तंज भी कस रहा है।

स्कूली छात्र के द्वारा दिए गए भाषण को प्रसिद्ध कवि कुमार विश्वास ने भी अपने ट्विटर अकाउंट से शेयर किया। स्कूली छात्र के भाषण को रीट्वीट करते हुए उन्होंने लिखा कि सभी युवा व्हाट्सएप विश्वविद्यालय में नहीं पढ़ रहे। कुछ सचमुच में भी पढ़-समझ रहे हैं। जीते रहिए सुधांशु, भारत को आप सब की पीढ़ी से बेहद आशाएं हैं। मां भारती कृपा करें। 

गांधी जयंती पर गोडसे जिंदाबाद ट्वीट करने वाले लोगों को भाजपा सांसद ने लगाई लताड़ 

देशभर में जहां एक तरफ धूमधाम से गांधी जयंती मनाया जा रहा है तो वहीं कुछ लोग शर्मनाक तरीके से ट्विटर पर गोडसे जिंदाबाद भी ट्रेंड करवा रहे हैं। ट्विटर पर गोडसे जिंदाबाद ट्रेंड होने पर भाजपा सांसद वरुण गांधी ने नाराजगी जाहिर की। वरुण गांधी ने ट्वीट करते हुए लिखा कि भारत हमेशा से आध्यात्मिक महाशक्ति रहा। लेकिन यह महात्मा गांधी हैं जिन्होंने हमारे राष्ट्र के आध्यात्मिक आधार को अपने अस्तित्व के माध्यम से व्यक्त किया और हमें एक नैतिक अधिकार दिया जो आज भी हमारी सबसे बड़ी ताकत है। आज ‘गोडसे जिंदाबाद’ ट्वीट करने वाले देश को गैर-जिम्मेदाराना रूप से शर्मसार कर रहे हैं।