स्टीव को मिलेगा ठौर या युवा बनेंगे सिरमौर

आइपीएल के 14वें सत्र के लिए छोटे पैमाने की नीलामी की तैयारी पूरी हो गई है। गुरुवार को कई दिग्गजों के आइपीएल में भविष्य का फैसला होगा।

IPL

हालांकि रिटेन और रिलीज खिलाड़ियों की सूची ने कुछ हैरान जरूर किया है। फ्रेंचाइजियों ने कुछ ऐसे खिलाड़ियों को भी बाहर का रास्ता दिखाया है जिनका पी्रमियर लीग में बेहतर रेकॉर्ड रहा है। मकसद चाहे जो भी हो लेकिन ऐसे खिलाड़ियों के बाहर होने से नीलामी काफी दिलचस्प हो गई है। गुरुवार को आस्ट्रेलियाई दिग्गज स्टीव स्मिथ, ग्लेन मैक्सवेल और क्रिस मौरिस ऐसे खिलाड़ी होंगे जिन पर निगाहें टिकी होंगी।

दरअसल, राजस्थान रॉयल्स ने अपने कुल आठ खिलाड़ियों को टीम से बाहर किया है। इसमें स्मिथ भी शामिल हैं। 12.5 करोड़ रुपए के साथ उनका 13वें सत्र में प्रदर्शन का आकलन करें तो फ्रेंचाइजी का फैसला सही लगता है।

लेकिन, एक सत्र के खेल के आधार पर ऐसा फैसला करना उचित नहीं हो सकता। इस आस्ट्रेलियाई बल्लेबाज ने 2019 सत्र में करीब 40 के औसत से 12 मैचों में 319 रन बनाए थे। 2017 में उनके बल्ले से 417 रन निकले। कोरोना महामारी के बाद भी स्मिथ ने कुछ बेहतरीन पारियां खेली हैं। ऐसे राजस्थान के लिए वे मददगार साबित हो सकते थे।

ग्लेन मैक्सवेल का पंजाब से जाना तय लग रहा था। 13वें सत्र में उनका प्रदर्शन बेहद खराब रहा। 13 मैचों में उनके बल्ले से सिर्फ 108 रन निकले। 2018 सत्र में भी उन्होंने 12 मैच में महज 169 रन बनाए थे।

2014 के उनके यादगार सत्र को छोड़ दें तो मैक्सवेल का प्रदर्शन संतोषजनक नहीं रहा है। हालांकि यह भी सच है कि इस हरफनमौला का बल्ला जब चलता है तो कोई भी गेंदबाज नहीं टिक पाता। यह मुमकिन है कि पंजाब के लिए 10.75 लाख इस एक खिलाड़ी पर खर्च कर पाना संभव नहीं था। वह अब बेहतर विकल्प की तलाश में होगा।

दिल्ली में धमाकेदार प्रदर्शन के बाद दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ी क्रिस मौरिस ने बंगलुरु में प्रवेश पाया था। दिल्ली के लिए उन्होंने हरफनमौला की भूमिका निभाई। मौरिस की पारी को देखते हुए उनसे बंगलुरु ने भी यही उम्मीद की होगी। हालांकि तीन सत्र सें उनका बल्लेबाजी प्रदर्शन बहुत बेहतर नहीं रहा है। गेंदबाजी में ठीक-ठाक प्रदर्शन कर रहे इस खिलाड़ी को बंगलुरु ने टीम से बाहर कर दिया है। मौरिस के लिए किसी फ्रेंचाइजी की तरफ से बोली लगती है यह देखना काफी दिलचस्प होगा।

युवाओं की बोली पर सबकी निगाहें

हर साल की तरह इस साल भी कुछ युवा खिलाड़ी हैं जिन पर सबकी निगाहें होंगी। इनमें पहले स्थान पर अफगानिस्तान के बाएं हाथ के कलाई गेंदबाज नूर अहमद हैं। उन्होंने अपने देश के लिए एक भी मैच नहीं खेला है लेकिन बिग बैश में खेलते हुए अपनी प्रतिभा दिखाई है। उनका बेस प्राइस 20 लाख है। इसी क्रम में 16 साल के नगालैंड के लेग स्पिनर ख्रेवित्सो केंसे भी हैं।

सैयद मुश्ताक ट्राफी में उन्होंने बेहतरीन गेंदबाजी की है। चार मैचों में उन्होंने सात बल्लेबाजों को पवेलियन भेजा है। केंसे की इस प्रतिभा को देखते हुए मुंबई इंडियंस की टीम ने उनमें दिलचस्पी दिखाई और उन्हें ट्रायल के लिए बुलाई था। इस नीलामी के दौरान 20 लाख के बेस प्राइस पर आए इस खिलाड़ी से भी काफी उम्मीदें हैं।