स्मृति मंधाना, हरमनप्रीत कौर के बाद शेफाली वर्मा ने भी किया द हंड्रेड से किनारा, इस कारण भारतीय ओपनर ने छोड़ी लीग

शैफाली वर्मा भारतीय टीम के साथ जून में इंग्लैंड गई थीं। इस दौरान वह टेस्ट, वनडे और टी20 सीरीज में खेली थीं। इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज में अपने प्रदर्शन से शैफाली ने काफी प्रभावित किया था। इंग्लैंड से सीरीज के बाद वह जुलाई में द हंड्रेड में अपनी टीम बर्मिंघम फोनिक्स से जुड़ गई थीं।

Shafali Verma had a mixed bag in the Hundred ECB The Hundred द हंड्रेड वुमन्स कॉम्पिटिशन 2021 में शैफाली वर्मा का प्रदर्शन मिलाजुला रहा था। (सोर्स- ट्विटर/ECB/The Hundred)

स्मृति मंधाना (Smriti Mandhana) और हरमनप्रीत कौर (Harmanpreet Kaur) के बाद अब देश की युवा प्रतिभाशाली क्रिकेटर शैफाली वर्मा (Shafali Verma) भी द हंड्रेड वुमन्स कॉम्पिटिशन 2021 से हट गई हैं। वह इंग्लैंड से स्वदेश लौट आईं हैं। शैफाली वर्मा द हंड्रेड वुमन्स कॉम्पिटिशन में बर्मिंघम फोनिक्स का हिस्सा थीं। इस कारण वह ओवल इन्विसिबल्स के खिलाफ एलिमिनेटर मैच में बर्मिंघम फोनिक्स में हिस्सा का नहीं होंगी।

दरअसल, भारतीय महिला क्रिकेट टीम को अगले महीने ऑस्ट्रेलिया दौरे पर जाना है। इसी कारण शैफाली इंग्लैंड से जल्दी लौटी हैं। शैफाली वर्मा से पहले स्मृति मंधाना और हरमनप्रीत कौर को भी टूर्नामेंट से हटना पड़ा था। स्मृति मंधाना ने पारिवारिक कारणों के चलते नाम वापस लिया था। हरमनप्रीत कौर इंजरी के चलते बाहर हो गई हैं। बता दें कि भारतीय महिला टीम की अन्य खिलाड़ी बेंगलुरु में हैं। वे दौरे से पहले ट्रेनिंग कैंप के लिए क्वारंटीन हैं।

शैफाली वर्मा भारतीय टीम के साथ जून में इंग्लैंड गई थीं। इस दौरान वह टेस्ट, वनडे और टी20 सीरीज में खेली थीं। इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज में अपने प्रदर्शन से शैफाली ने काफी प्रभावित किया था। इंग्लैंड से सीरीज के बाद वह जुलाई में द हंड्रेड में अपनी टीम बर्मिंघम फोनिक्स से जुड़ गई थीं।

द हंड्रेड में शैफाली वर्मा का प्रदर्शन मिलाजुला रहा। वह एक बार ही 25 रन से ज्यादा की पारी खेल पाईं। हालांकि, इसमें उनकी 42 गेंद में नाबाद 76 रन बनाने वाली पारी भी शामिल है। उनकी उस पारी के दम पर ही बर्मिंघम फोनिक्स ने वेल्श फायर के खिलाफ बड़ी जीत हासिल की थी।

उस जीत के बाद से ही उनकी टीम ने लय पकड़ी थी और नॉकआउट दौर में जगह बनाने में सफल रही थी। उस मैच से पहले बर्मिंघम फोनिक्स बेरंग दिख रही थी। हालांकि, बाद में उसने लगातार तीन जीत हासिल कीं।

शैफाली वर्मा ने टूर्नामेंट से हटने के बाद इंस्टाग्राम पर लिखा, ‘द हंड्रेड में इन लोगों के साथ खेलकर काफी मजा आया। दोस्ती और यादें हमेशा साथ रहेंगी। बाकी के टूर्नामेंट के लिए बेस्ट ऑफ लक।’

द हंड्रेड वुमन्स कॉम्पिटिशन में भारत की पांच खिलाड़ियों हरमनप्रीत कौर, जेमिमा रॉड्रिग्ज, दीप्ति शर्मा, स्मृति मंधाना और शैफाली वर्मा ने हिस्सा लिया था। हरमनप्रीत कौर मैनचेस्टर ऑरिजनल्स, जेमिमा नॉर्दर्न सुपरचार्जर्स, दीप्ति शर्मा लंदन स्पिरिट, स्मृति मांधना सदर्न ब्रेव में रहीं।