हम अपने चैनल पर क्या चलाएं आप तय नहीं करेंगे- संबित पात्रा और एंकर के बीच हो गई तीखी बहस; देखें

जन अधिकार पार्टी सुप्रीमो पप्पू यादव ने एक वीडियो ट्वीट किया है जिसमें एक एंबुलेंस में बालू से भरी बोरियां लादी जा रही हैं। एंबुलेंस पर BJP सांसद राजीव प्रताप रूडी का नाम लिखा है। इस वीडियो को फेक बताने पर संबित पात्रा और चित्रा त्रिपाठी में जोरदार बहस हो गई।

sambit patra, chitra tripathi, pappu yadav

भारत में कोरोना संक्रमण की दर कम होती नहीं दिख रही और हर रोज 4 लाख के करीब मामले सामने आ रहे हैं। देश की स्वास्थ्य व्यस्था पर भारी बोझ है और ऑक्सीजन, मेडिकल बेड्स, जरूरी दवाईयों आदि की कमी की खबरें आ रही हैं। बिहार राज्य की स्थिति भी कुछ ऐसी ही है। इसी बीच बिहार के पूर्व सांसद और जन अधिकार पार्टी सुप्रीमो पप्पू यादव ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर किया है जिसे लेकर खूब हंगामा हो रहा है। वीडियो में यह देखा जा सकता है कि एंबुलेंस में बालू से भरी बोरियां लादी जा रही हैं। एंबुलेंस पर सारण से बीजेपी सांसद राजीव प्रताप रूडी का नाम लिखा हुआ है। इसी वीडियो को लेकर संबित पात्रा और आज तक की एंकर चित्रा त्रिपाठी में बहस हो गई।

आज तक के डिबेट शो, ‘हल्ला बोल’ पर इसी मुद्दे को लेकर डिबेट हो रहा था जहां पप्पू यादव राज्य की खराब स्वास्थ्य व्यवस्था पर बोल रहे थे। शो के दौरान पप्पू यादव द्वारा शेयर किया गया वीडियो भी लगातार चलाया जा रहा था जिस पर संबित पात्रा ने कहा, ‘ये फेक वीडियो है, मुझे तो आश्चर्य हो रहा है कि आज तक जैसा चैनल एक फेक वीडियो को चला रहा है।’

जवाब में चित्रा त्रिपाठी ने कहा, ‘सर पूरी जिम्मेदारी के साथ मैंने जब वो वीडियो चलाया तो मैंने बोला कि ये वीडियो पप्पू यादव ने जारी किया है। मैंने कहा कि उन्होंने ये वीडियो ट्वीट किया है। और उसी वीडियो के आधार पर आप यहां बैठकर डिबेट करने आए हैं संबित पात्रा क्योंकि उन्होंने ही ये खुलासा किया। क्या ये फेक वीडियो है पप्पू यादव? क्या आप फेक वीडियो जारी कर रहे हैं?’

संबित पात्रा ने कहा, ‘ये वीडियो फेक है, मैं आपसे रिक्वेस्ट करुंगा कि इस वीडियो को तुरंत चलने से रोका जाए।’ उनकी ये बात सुन चित्रा त्रिपाठी भड़क गईं और बोलीं, ‘संबित पात्रा आपके कहने से कौन सा वीडियो तुरंत डाउन किया जाए कौन सा उठाया जाए ऐसा तो नहीं होगा, प्लीज। अगर मैं भी सलाह देने लगूं कि आप बीजेपी में ये कीजिए, इनको उठाइए…मुझे लगता है कि एक प्रवक्ता को एक लक्ष्मण रेखा खींचनी चाहिए। कौन सा वीडियो चलाया जाए कौन सा नहीं ये आप नहीं तय करेंगे। कुछ चैनल की जिम्मेदारी के लिए भी छोड़ दीजिए।’

संबित पात्रा भी भड़क गए और बोले, ‘आपने फेक वीडियो जारी कर दिया। बंगाल का तो जारी नहीं करते हैं। जब वहां पर हमारी महिलाओं से दुष्कर्म होता है, हत्या होती है तब आप कहते हैं कि फेक है और यहां पर फेक वीडियो पर डिबेट हो रहा है।’

चित्रा त्रिपाठी संबित पात्रा पर बुरी तरह भड़की हुई दिखाई दीं। उन्होंने कहा, ‘ये जो आदत पड़ गई है आप लोगों कि की इस वीडियो को दिखाईए, इसको नहीं आप कौन होते हैं बताने वाले कि हम क्या चलाएं क्या नहीं?’