हेमा मालिनी से बेपनाह मोहब्बत करते थे राजकुमार, प्रपोज किया तो मिला था ऐसा जवाब

उसी वक्त राजकुमार की निगाह हेमा मालिनी पर पड़ी थी। राजकुमार को हेमा मालिनी पहली नजर में ही भा गईं। ऐसे में राजकुमार ने हेमा मालिनी को इस फिल्म में रोल दिलवा दिया। राजकुमार ने हेमा..

Rajkumar, राजकुमार, Hema Malini, Rajkumar Love To Hema Malini, Hema Malini Dharmendra Affair, हे

80 के दशक में हेमा मालिनी अपनी अदाकारी से फैंस के दिलों पर राज कर रही थीं। वहीं हेमा के कई ऐसे को-स्टार्स रहे जिनको एक्ट्रेस से एक-तरफा प्यार हो गया था। हेमा मालिनी की खूबसूरती का उस वक्त हर कोई दीवाना था। इनमें जितेंद्र, संजीव कुमार और धर्मेंद्र का नाम शामिल था तो वहीं एक और कलाकार थे जिनका सिर कभी किसी के आगे नहीं झुका लेकिन वह भी हेमा मालिनी को अपना दिल दे बैठे थे।

ये कोई और नहीं बल्कि इंडस्ट्री के प्रिंस कहे जाने वाले राजकुमार थे। 70 के दशक में अपने रुबाब के लिए मशहूर राजकुमार को हेमा मालिनी इतनी पसंद आ गई थीं कि वह एक्ट्रेस से अपने प्यार का इजहार भी करने पहुंच गए थे। साल 1971 में एक फिल्म बन रही थी ‘लाल पत्थर’। फिल्म में वैजयंतीमाला मेन लीड में थीं। फिल्म में मेन किरदार में राजकुमार थे।

जब हेमा मालिनी को फिल्म में राजकुमार ने दिलवाया रोल: उसी वक्त राजकुमार की निगाह हेमा मालिनी पर पड़ी थी। राजकुमार को हेमा मालिनी पहली नजर में ही भा गईं। ऐसे में राजकुमार ने हेमा मालिनी को इस फिल्म में रोल दिलवा दिया। राजकुमार ने हेमा को वो रोल दिलवाया जिसे वैजयंतीमाला कर रही थीं। ये वो दौर था जब राजकुमार का इंडस्ट्री में सिक्का चलता था। उनके एटीट्यूड के आगे किसी की नहीं चलती थी। जीतेंद्र को पीटने हेमा मालिनी के मेकअप रूम पर पहुंच गए थे धर्मेंद्र, जानिए फिर क्या हुआ..

हेमा ने वैजयंतीमाला को किया था रिप्लेस: राजकुमार एक बड़े हीरो थे ऐसे में सेट पर वही होता था जो वो कहते थे। ऐसे में मेकर्स से कहकर फिल्म से वैजयंतीमाला को रिप्लेस कर हेमा मालिनी को जगह दे दी गई। हेमा तब इंडस्ट्री में नई नई आई थीं। वहीं वैजयंतीमाला एक बहुत बड़ी और मंझी हुई अदाकारा थीं। ऐसे में हेमा को तब इस बात का अंदाजा नहीं था कि ये रोल उन्हें राजकुमार के कहने पर मिला है।

राजकुमार और हेमा मालिनी की मुलाकातों का सिलसिला: अब फिल्म की शूटिंग शुरू हुई जिसमें हेमा मालिनी और राजकुमार की सेट पर रोज मुलाकात होती थी। दोनों एक दूसरे से काफी घुल मिल गए थे। राजकुमार हेमा मालिनी से बड़े प्यार से बात किया करते थे। हेमा मालिनी भी उन्हें एक सीनियर की तरह रिस्पेक्ट देती थीं। एक दिन राजकुमार ने बातों ही बातों में हेमा से अपने दिल की बात कह डाली।

हेमा ने जब ये सुना तो वह हैरान रह गई। उन्होंने राजकुमार से कहा कि वह उनके बारे में ऐसा नहीं सोचतीं। हेमा मालिनी ने कहा कि मैं आपको पसंद तो करती हूं पर प्यार नहीं करती। राजकुमार को हेमा मालिनी से ऐसी जरा भी उम्मीद नहीं थी कि वह उनका प्रस्ताव ठुकरा देंगी।

राजकुमार के अलावा जितेंद्र और संजीव कुमार को भी हेमा मालिनी बहुत पसंद थीं। जीतेंद्र की मां भी चाहती थीं कि हेमा मालिनी उनके घर की बहू बनें। इधर, धर्मेद्र को भी हेमा मालिनी बहुत पसंद थीं।

वहीं संजीव हेमा मालिनी को फिल्म शोले के वक्त से बहुत पसंद करते थे। ऐसे में वह हेमा से अपने दिल की बात कहना चाहते थे। फिल्म शोले की शूटिंग के दौरान हेमा को संजीव ने प्रपोज भी किया। लेकिन हेमा ने उनके प्रपोजल को ठुकरा दिया था क्योंकि वह धर्मेंद्र को पसंद करती थीं। वहीं बाद में हेमा मालिनी ने धर्मेंद्र को अपने जीवनसाथी के रूप में चुना।