होमवर्क न करने पर टीचर ने छात्रा को मारे थप्पड़, थाने तक पहुंचा मामला

उत्तर प्रदेश के लखनऊ में टीचर ने स्कूल में छात्रा को थप्पड़ मारे तो मामला सीधे थाने तक जा पहुंचा. जानकारी के मुताबिक, कृष्णानगर के अवध कॉलेजिएट में पढ़ने वाली छात्रा को उसकी क्लास टीचर दिव्या सिंह ने होमवर्क नहीं करने पर थप्पड़ जड़ दिए. छात्रा ने घर जाकर मां को इस बारे में बताया. फिर दोनों मां-बेटी थाने पहुंची और टीचर के खिलाफ मामला दर्ज करवाया.

बता दें, इन दिनों थप्पड़ मारने की घटनाएं लगातार बढ़ रही हैं. इससे पहले उन्नाव से भी ऐसा ही मामला सामने आया था. यहां भी होमवर्क न करने पर पांच साल की बच्ची को बेरहमी से पीटा था. मामला असोहा ब्लॉक के इस्लामनगर प्राथमिक विद्यालय का था. यहां महिला शिक्षिका ने होमवर्क नहीं करने पर मासूम पर 30 सेकेंड के अंदर 10 थप्पड़ बरसाए थे. घटना का वीडियो भी खूब वायरल हुआ था.

छुट्टी के बाद जब बच्ची घर पहुंची तो उसके चेहरे पर गंभीर चोट के निशान थे. परिजन तुरंत स्कूल पहुंचे और आरोपी शिक्षिका से इसकी शिकायत की. उस वक्त महिला टीचर ने अपनी गलती मान ली और भविष्य में इस तरह की कोई गलती नहीं करने का वादा किया.

वहीं, उससे पहले इटावा से प्रिंसिपल द्वारा शिक्षक की पिटाई का भी मामला सामने आया था. यहां बहादुरपुर लोहिया के कंपोजिट विद्यालय में देरी से पहुंचने पर प्रिंसिपल ने शिक्षक को थप्पड़ जड़ दिया. शिक्षक संजीव कुमार ने बताया कि सुबह 7:20 बजे स्कूल गेट पर पहुंचे थे. इसी बीच प्रिंसिपल ने प्रार्थना रोककर राष्ट्रगान शुरू करा दिया. इससे वह गेट पर ही सावधान की मुद्रा में खड़े हो गए. राष्ट्रगान पूरा होने के बाद स्कूल पहुंचे और प्रिंसिपल को देरी से पहुंचने की वजह बताई. इस पर उनसे विवाद हो गया. शिक्षक ने इसकी शिकायत अधिकारियों से की. उन्होंने आरोप लगाया कि प्रिंसिपल ने स्टाफ व बच्चों के सामने थप्पड़ मार दिया.