30 रुपए बचाने के लिए घंटों पैदल चलते थे रोहित शेट्टी, पिता की मौत के बाद बिक गया घर; अजय देवगन के इस कदम से बदली किस्मत

रोहित शेट्टी ने बताया था कि 1995 में आई फिल्म हकीकत में उन्होंने तब्बू की साड़ी प्रेस करने का काम किया था। बतौर डायरेक्टर उनकी पहली फिल्म जमीन फ्लॉप हो गई तब अजय देवगन…

ajay devgan, rohit shetty, rohit shetty struggle

रोहित शेट्टी का शो खतरों के खिलाड़ी 11 जल्द ही शुरू होने वाला है। खतरनाक स्टंट और एक्शन फिल्मों में लिए मशहूर रोहित शेट्टी के इस शो में कंटेस्टेंट्स खतरनाक स्टंट करते नजर आते हैं। रोहित शेट्टी को एक्शन और कॉमेडी को एक साथ पर्दे पर दिखाने के लिए भी जाना जाता है। अजय देवगन के साथ उनकी एक्शन युक्त कॉमेडी फिल्मों ने बेहतरीन प्रदर्शन किया है। आज उनकी हर फिल्म करोड़ों की कमाई करती है लेकिन एक वक्त ऐसा भी था जब उनके पास बिल्कुल पैसे नहीं होते थे। पैसे बचाने के लिए उन्हें घंटों पैदल चलना पड़ता था।

रोहित शेट्टी के पिता एमबी शेट्टी फिल्मों में विलेन का रोल करते थे और वो फेमस स्टेंटसमैन थे। जब रोहित छोटे थे तभी उनके पिता का निधन हो गया जिसके बाद परिवार को आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ा। उनका घर बिक गया जिसके बाद उन्हें किराए के मकान में रहना पड़ा। उनकी मां ने घर चलाने के लिए काम करना शुरू किया। पैसे भी तंगी के कारण रोहित ने अपनी पढ़ाई भी पूरी नहीं की थी।

रोहित शेट्टी अपने पिता से प्रभावित थे और उन्होंने सोच लिया था कि वो डायरेक्टर ही बनेंगे। 17 साल की उम्र में उन्हें फूल और कांटे फिल्म में कुकू कोहली ने इंटर्न रख लिया था। इस फिल्म के लिए रोहित शेट्टी को बस आने- जाने का किराया मिलता था जो कि 30 रुपया था। लेकिन रोहित शेट्टी इतनी तंगी से गुजर रहे थे कि वो घंटों पैदल चलकर ही अपने घर मलाड से अंधेरी के नटराज स्टूडियो जाते थे।

रोहित शेट्टी ने अपने संघर्ष के दिनों को याद करते हुए एक इंटरव्यू में बताया था कि 1995 में आई फिल्म हकीकत में उन्होंने तब्बू की साड़ी प्रेस करने का काम किया था। रोहित शेट्टी काजोल के लिए बतौर स्पॉटबॉय काम करते थे।

रोहित शेट्टी ने अजय देवगन की फिल्म सुहाग ने बतौर असिस्टेंट डायरेक्टर काम किया। इसके बाद अजय की कई फिल्मों के वो असिस्टेंट डायरेक्टर रहे। इस तरह अजय देवगन और रोहित शेट्टी में अच्छी दोस्ती हो गई। रोहित ने यह फैसला किया कि बतौर निर्देशक अपनी पहली फिल्म वो अजय देवगन के साथ ही बनाएंगे।

अजय देवगन के साथ उनकी पहली फिल्म जमीन बुरी तरह फ्लॉप रही। इसके बाद रोहित शेट्टी के लिए निर्देशन का काम आसान नहीं रहा। उनके साथ कोई काम करने को तैयार नहीं था। जब किसी ने उन पर अपना भरोसा नहीं दिखाया तब सामने आए थे अजय देवगन। रोहित ने अजय देवगन के साथ मिलकर साल 2006 में फिल्म गोलमाल: फन अनलिमिटेड बनाई, जो सुपरहिट रही।

इसके बाद तो दोनों ने मिलकर साथ में कई फिल्में की जो 100 करोड़ के क्लब में भी शामिल हुईं। गोलमाल सीरीज की 4 फिल्में, ऑल द बेस्ट, सिंघम, सिंघम रिटर्न्स जैसी फिल्मों ने बॉक्स ऑफिस पर बेहतरीन प्रदर्शन किया है।