70 सालों में कांग्रेस ने गलत इतिहास पढ़ाया, आतंकियों को हीरो बनाया- तालिबान का नाम लेकर बोले फिल्ममेकर

फिल्म निर्माता अशोक पंडित ने मनोज मुंतशिर के समर्थन में एक ट्वीट किया, जिसमें उन्होंने तालिबान का नाम लेते हुए कांग्रेस पर भी तंज कसा।

congress, sonia gandhi, फिल्म निर्माता ने तालिबान का नाम लेकर कांग्रेस पर कसा तंज (फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस)

मशहूर गीतकार मनोज मुंतशिर अपने एक वीडियो को लेकर सोशल मीडिया पर काफी चर्चा में आ गए हैं। दरअसल, अपने वीडियो में मनोज मुंतिशर ने अकबर, हुमायूं और जहांगीर को डकैत बताया, साथ ही यह सवाल भी किया कि आप किसके वंशज हैं। उनके इस वीडियो को लेकर जहां कई लोग उनका विरोध कर रहे हैं तो वहीं कुछ लोग उनके समर्थन में भी आए हैं। हाल ही में मशहूर फिल्म निर्माता अशोक पंडित ने भी मनोज मुंतशिर का समर्थन करते हुए ट्वीट किया, जिसमें उन्होंने तालिबान का नाम लेकर कांग्रेस पर भी तंज कसा।

फिल्म निर्माता अशोक पंडित ने गीतकार मनोज मुंतशिर का वीडियो साझा करते हुए ट्वीट किया। अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा, “इन 70 सालों तक हमें कांग्रेसियों और कम्यूनिस्टों ने गलत इतिहास पढ़ाया है। झूठ बोल-बोलकर आतंकवादियों को हीरो बनाया है। यह काम वो आज भी कर रहे हैं। आज तक तालिबानियों के खिलाफ बात नहीं की।”

अशोक पंडित ने ट्वीट में आगे लिखा, “इनके हाथ खून से रंगे हुए हैं। शुक्रिया।” अशोक पंडित के ट्वीट का जवाब देते हुए मुकेश पांचाल नाम के एक यूजर ने लिखा, “मेरा ट्वीट नोट कर लो, यह इंसान यूपी में चुनाव लड़ेगा और मंत्री भी बनेगा।” रिद्धी नाम के यूजर ने लिखा, “मनोज सर जब इतनी लड़ाई लड़ ही ली है तो फिर पीएम मोदी को टैग करके कोर्स बदलवाने की भी बात कर लो। क्योंकि आप लोगों की बात सुनी जाती है।”

राजेश कुमार नाम के यूजर ने अशोक पंडित के ट्वीट पर चुटकी लेते हुए लिखा, “पहले हिंदी तो ठीक से लिखना सीख लीजिए अशोक भाई।” जय नाम के यूजर ने ट्वीट के जवाब में लिखा, “तो आपका ख्याल है कि कांग्रेस देश के काम-धाम छोड़कर यही करती रहे। जैसे भाजपा देश के मुख्य मुद्दों को अनदेखा कर इन सब में लगी हुई है।”

बता दें कि अशोक पंडित के अलावा बॉलीवुड एक्टर मनोज जोशी ने भी मनोज मुंतशिर का वीडियो साझा कर उनका समर्थन किया। अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा, “सच जाहिर तौर पर बताना चाहिए।” बता दें कि अपने वीडियो में मनोज मुंतशिर ने कहा था, “हमारे घर तक आने वाली सड़कों के नाम भी किसी अकबर हुमायूं, जहांगीर जैसे ग्लोरिफाइड डकैत के नाम पर रखे गए हैं। हम भी रिबन काटते हुए मौकापरस्त नेताओं को देखकर तालियां बजाना शुरू कर देते हैं।”