7th Pay Commission: इन सरकारी कर्मचारियों को एकसाथ मिलने जा रही दो वेतनवृद्धि

7th Pay Commission, 7th CPC Latest News, Central Government Employees: अगर किसी कर्मचारी की नौकरी के दौरान मौत हो जाती है तो उनके परिवार के सदस्यों (कर्मचारी पर निर्भर) के जीवन यापन के लिए यह पारिवारिक पेंशन दी जाती है।

7th Pay Commission news, 7th Pay Commission, 7th Pay Commission Latest News

7th Pay Commission, 7th CPC Latest News, Central Government Employees: मध्य प्रदेश सरकार 2 मार्च को बजट पेश करने जा रही है। इस बजट में 7.50 लाख सरकारी कर्मचारियों को दो वेतनवृद्धि एकसाथ मिलेगी। बजट में कर्मचारियों को सरकार जुलाई 2020 का इंक्रीमेंट जुलाई 2021 के साथ देने की घोषणा कर सकती है। बजट में फाइनेंशियल ईयर (2021-22) में अधिकतम 25 फीसदी महंगाई भत्ते की व्यवस्था कर दी गई है।

यानी की अगर केंद्र सरकार फाइनेंशियल ईयर (2021-22) में डीए बढ़ाती है तो राज्य सरकार भी इसके लिए तैयार है। मौजूदा समय में केंद्रीय कर्मचारियों को 17 फीसदी की दर से महंगाई भत्ते का भुगतान जारी है जबकि मध्य प्रदेश के सरकारी कर्मचारियों को 12 फीसदी की दर से महंगाई भत्ता मिल रहा है।

वहीं केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनर्स को जल्दी महंगाई भत्ते (डीए) पर राहत मिल सकती है। कोरोना संकट के चलते बीते अप्रैल से डीए पुरानी दर (17 फीसदी) पर ही दिया जा रहा है जबकि मौजूदा दर 21 फीसदी है।

सरकार ने बीते साल मार्च में अहम फैसला लेते हुए डीए की पुरानी दर को जून 2021 तक के लिए लागू किया है। ऐसे में कर्मचारियों और पेंशनर्स को जल्द इसपर राहत मिल सकती है। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में तो यह भी कहा जा रहा है कि सरकार होली से पहले इसपर खुशखबरी दे सकती है।

सरकार ने फैमिली पेंशन की लिमिट बढ़ाई: केंद्र सरकार में सरकारी नौकरीपेशा के लिए फैमिली पेंशन पर अहम फैसला लिया गया है। सरकार ने फैमिली पेंशन की लिमिट 45 हजार रुपये से बढ़ाकर 1.25 लाख रुपये प्रति माह कर दी गई है।

पेंशन और पेंशनभागी कल्याण विभाग ने मृत सरकारी सेवक/पेंशनभागी के उन बच्चे/भाई-बहन की पेंशन को लेकर निर्देश जारी किया है। पारिवारिक पेंशन योजना 1971 में यह प्रावधान है कि कर्मचारी की सर्विस पीरियड के दौरान मृत्यु होने पर पारिवारिक पेंशन मुख्य रूप से कर्मचारी की विधवा या विधुर को ही दी जाती है। सरकार ने इस पेंशन में ढ़ाई गुना की बढ़ोत्तरी कर दी है। कर्मचारियों द्वारा लंबे समय से इसकी मांग की जा रही थी।

ऐसे मिलता है फायदा: अगर किसी कर्मचारी की नौकरी के दौरान मौत हो जाती है तो उनके परिवार के सदस्यों (कर्मचारी पर निर्भर) के जीवन यापन के लिए यह पारिवारिक पेंशन दी जाती है। सातवें पे कमिशन (7th Pay Commission) के आधार पर अब पेंशन मिलेगी। इससे पहले छठें वेतन आयोग (6th Pay Commission) में 45 हजार रुपए अधिकतम पेंशन की व्यवस्था थी। सरकार ने इस संबंध में हाल में संसद में जानकारी भी दी है।