7th Pay Commission : पेंशनर्स के लिए बड़ी खुशखबरी, डीआर में 356 फीसदी का इजाफा

सरकार ने 18 नवंबर 1960 से 31 दिसंबर 1985 के बीच रिटायर हुए कर्मचारियों के लिए डीआर में बड़ी राहत दी है, जिसमें 312 फीसदी से लेकर 356 फीसदी का तक का इजाफा हुआ है।

7th Pay commission डिपार्टमेंट ऑफ पेंशन एंड पेंशनर्स वेलफेयर ने जानकारी देते कहा कि जिंदा सीपीएफ बेनिफ‍िश‍रीज के लिए डीआर 312 परसेंट से 356 फीसदी कर द‍िया है।

डिपार्टमेंट ऑफ पेंशन एंड पेंशनर्स वेलफेयर ने जानकारी देते कहा कि जिंदा सीपीएफ बेनिफ‍िश‍रीज के लिए डीआर 312 परसेंट से 356 फीसदी का द‍िया है। यह फायदा उन लोगों को मिलेगा, 18 नवंबर 1960 से 31 दिसंबर 1985 के बीच रिटायर हुए हैं। रिवाइज्‍ड डीआर रिटायर्ड कर्मचारियों को 1 जुलाई 2021 से दिया जाएगा। आपको बता दें क‍ि सीपीएफ लाभार्थियों की तीन किस्‍तें बाकी थी, जो 1 जनवरी 2020, 1 जुलाई 2020, 1 जनवरी 2021 हैं।

5वें सीपीसी सीरीज के तहत बढ़ाया
जानकारी के अनुसार 5वें सीपीसी सीरीज के तहत सीपीएफ बेनिफशिरीज के लिए एक्‍स ग्रेश‍िया अमाउंट बढ़ाने का फैसला हुआ है। यह नियम 1 जुलाई 2021 से लागू हो चुका है। जिंदा सीपीएफ बेनिफ‍िशरीज के ग्रुप ए, बी, सी और डी के अंतर्गत 3000, 1000, 750 और 650 रुपए के आधार पर एक्‍स ग्रेश‍िया अमाउंट दिया जाता है। यह रूल 4 जून 2013 से है। अब इनका डीआर यानी महंगाई राहत 312 फीसदी से बढ़ाकर 356 फीसदी का दिया है। वहीं दूसरी ओर रिटायर्ड कर्मचारियों की एक श्रेणी के लिए डीआर को 304 फीसदी से 348 फीसदी किया गया है।

किसको कितना मिलेगा
जिस लाभार्थी की विडो और बच्‍चों को प्रत्‍येक माह 645 रुपए का एक्‍स ग्रेशिया दी जाती है। यह रूल उन लोगों के लिए है जो 1 जनवरी 1986 से पहले रिटायर हुए थे। साथ ही उन लोगों पर भी लागू है जिनकी मौत 1 जनवरी 1986 से पहले हो चुकी है। उनके डीआर को 304 से 348 फीसदी का दिया गया है। यह नियम 4 जून 2013 से लागू है। वहीं दूसरी ओर सीपीएफ फायदों के साथ जो सरकारी कर्मचारी 18 नवंबर 1960 से पहले रिटायर हो गए थे और वे 654, 659, 703 और 965 रुपए एक्‍स ग्रेशि‍या की कैटगरी में हैं, उन्हें 348 फीसदी मिलेगा।

हाल में डीए और डीआर में किया है इजाफा
केंद्र सरकार ने महंगाई भत्‍ता और महंगाई राहत को बढ़ाया है। जो एक जुलाई 2021 से लागू कर दिया गया है। यह इजाफा बेसिक पेंशन में किया गया है। पहले डीए 17 फीसदी था, जिसे बढ़ाकर 28 फीसदी कर द‍िया गया है। वहीं दूसरी ओर डीआर में भी इजाफा किया गया है, इसे भी 17 फीसदी से 28 फीसदी कर दिया गया है। हाल ही में एआईसीपीआई के आंकड़े सामने आ गए हैं। जिसके बाद 3 फीसदी डीए और डीआर में और इजाफा देखने को मिल सकता है।