7th Pay Commission: बिहार में सीधे इंटरव्यू से भर्ती होंगे डॉक्टर, 65 हजार रुपये वेतन, स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों को अतिरिक्त मानदेय देंगे योगी

7th Pay Commission:

corona, vaccine

कोरोना संकट के दौरान बिहार के अस्पतालों में डॉक्टरों की बहाली के लिए शेड्यूल जारी किया गया है। इसके तहत प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में 21, एनएमसीएच में 25 बाकी मेडिकल कॉलेज अस्पतालों में 15-15 भर्तियां होनी हैं। ये सभी भर्तियां वॉक इन इंटरव्यू के आधार पर होंगी। राज्य में कुल 1 हजार डॉक्टरों की भर्ती की जाएगी। यह बहाली 1 साल के लिए होगी और डॉक्टरों को 65 हजार रुपये वेतन दिया जाएगा।

इन पदों के लिए किसी मान्यता प्राप्त विश्विविद्यालय से एमबीबीएस की डिग्री आवश्यक है। इसमें सूची का निर्धारण में एमबीबीएस की मेरिट देखी जाएगी। प्राप्तांक की गणना 50 प्रतिशत पर की जाएगी। शर्त यह है कि नबंधन एमसीआई से होना चाहिए। उम्र सीमा में आरक्षण राज्य के नियमों के हिसाब से ही होगा। सामान्य वर्ग के उम्मीदवारों के लिए अधिकतम उम्र 37 साल होगी।

6338 पदों के लिए भर्ती की प्रक्रिया शुरू
बिहार में सामान्य चिकित्सा पदाधिकारी और विशेषज्ञ चिकित्सा पदाधिकारी के 6338 पदों को भरने के लिए आवेदन मंगाए गए हैं। बिहार तकनीकी सेवा आयोग की तरफ से ऑनलाइन आवेदन लिया जाएगा। 4 मई से 24 मई तक आवेदन किया जा सकता है। इसके लिए www.btsc.bih.nic.in पर जाना होगा।

मानदेय बढ़ाएगी योगी सरकार
कोरोना संक्रमण की तेज सफ्तार के बीच उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने भी स्वास्थ्य कर्मचारियों के लिए अहम फैसला लिया है। सरकार ने कहा है कि अस्पतालों में सेवा देने वाले डॉक्टरों, नर्सिंग स्टाफ और सफाई कर्मचारियों कोविड सेवा के दौरान 25 फीसदी अतिरिक्त मानदेय दिया जाएगा। ड्यूटी के बाद आइसोलेशन अवधि के लिए भी यह मानदेय दिया जाएगा।