7th Pay Commission: यहां CM ने कहा- कर्मचारियों को 28% महंगाई भत्‍ता देगी सरकार

7th Pay Commission Latest News in Hindi: उत्तर प्रदेश विधानसभा का मानसून सत्र अपने निर्धारित समय से पहले बृहस्पतिवार को अनिश्चित काल के लिए स्थगित कर दिया गया। इससे पहले विधानसभा में 2021-22 के लिए 7301.52 करोड़ रुपये का अनुपूरक बजट ध्वनिमत से पारित हुआ। अनुपूरक बजट पर चर्चा के दौरान विधानसभा में नेता सदन […]

Rupees, UP, 7th Pay Commission 7th Pay Commission Latest News in Hindi: तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुति के लिए किया गया है। (फोटोः unsplash)

7th Pay Commission Latest News in Hindi: उत्तर प्रदेश विधानसभा का मानसून सत्र अपने निर्धारित समय से पहले बृहस्पतिवार को अनिश्चित काल के लिए स्थगित कर दिया गया। इससे पहले विधानसभा में 2021-22 के लिए 7301.52 करोड़ रुपये का अनुपूरक बजट ध्वनिमत से पारित हुआ।

अनुपूरक बजट पर चर्चा के दौरान विधानसभा में नेता सदन और मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने कहा कि ‘‘यह बजट हम युवाओं को समर्पित कर रहे हैं।’’ उन्होंने कहा कि एक जुलाई 2021 से राज्‍य में सरकारी कर्मचारियों को अब 28 फीसद महंगाई भत्‍ता दिया जाएगा जिसमें 16 लाख सरकारी कर्मचारी और 12 लाख पेंशनर्स लाभान्वित होंगे। विधानसभा में अनुपूरक बजट पर चर्चा के दौरान विपक्षी सदस्यों का जवाब देते हुए नेता सदन और मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने कहा, ‘‘इस बजट को हम युवाओं को समर्पित कर रहे हैं।’’

उन्होंने एक कविता के जरिये युवाओं को प्रेरित करते हुए कहा, ‘‘नये युग का सृजन युवकों तुम्हारे हाथ में है। समूचा जग युवा पीढ़ी तुम्हारे हाथ में है। सफलता तो तुम्हारी बात में जज्बात में है, नये युग का सृजन युवकों तुम्हारे हाथ में है।’’ उन्होंने नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी की ओर इशारा करते हुए कहा, ‘‘नेता प्रतिपक्ष युवा पीढ़ी के जज्बात को आप नहीं समझ पाएंगे।’’ योगी ने कहा कि अनुपूरक बजट का विपक्ष इसलिए विरोध कर रहा है क्योंकि यह युवाओं को समर्पित है और ये लोग (विपक्ष) युवा विरोधी हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘आप लोग (समाजवादी पार्टी) जब सरकार में थे तो नौकरियों को गिरवी रख दिया था। निवेश बंद हो चुका था। दंगे होते थे, नौजवान फंसा दिए जाते थे। झूठे मुकदमे लाद दिए जाते थे। औसत तीसरे दिन उत्तर प्रदेश में दंगा होता था लेकिन आज दंगा मुक्त प्रदेश है।’’

योगी ने कहा, ‘‘हमारी सरकार ने एक निधि का गठन किया है। सरकार के स्‍तर पर तीन हजार करोड़ रुपये की एक निधि प्रारंभ हो रही है जिसमें एक करोड़ नौजवानों को टैबलेट और स्मार्टफोन की सुविधा उपलब्‍ध कराई जाएगी। स्नातक, परास्नातक और तकनीकी डिप्लोमा करने वाले नौजवानों को हम इस योजना के साथ जोड़ेंगे और उसकी आवश्यकता के अनुसार नि:शुल्‍क डिजिटल सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी।’’

उन्होंने यह भी कहा कि सरकार कम से कम तीन प्रतियोगी परीक्षाओं में बैठने के लिए युवाओं को परीक्षा भत्ता देने पर विचार कर रही है। उन्होंने अधिवक्ताओं के लिए सामाजिक सुरक्षा निधि, आंबेडकर स्मारक तथा सांस्कृतिक केंद्र का निर्माण, आंगनबाड़ी, आशा कार्यकर्ताओं तथा चौकीदारों के लिए मानदेय में वृद्धि, विद्युत व्यवस्था में सुधार, गोवंशीय पशुओं का रखरखाव और अयोध्या में सुविधाओं और पार्किंग की व्यवस्था और साथ ही साथ मूलभूत ढांचा में वृद्धि जैसे बिंदुओं पर विस्तार से चर्चा करते हुए विपक्ष पर निशाना साधा।

बता दें कि उत्तर प्रदेश विधानसभा का मानसून सत्र तीन दिन चला। सत्र की शुरुआत 17 अगस्त को हुई थी और इसे 24 अगस्त तक चलना था। बृहस्पतिवार को विधानसभाध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित द्वारा इसे अनिश्चित काल के लिए स्थगित कर दिया गया।

अनिश्चित काल के लिए स्थगित करने से पहले, सदन ने 2021-22 के लिए अनुपूरक बजट पारित किया। अनुपूरक बजट पारित करने का प्रस्ताव वित्त व संसदीय कार्य मंत्री सुरेश कुमार खन्‍ना ने रखा जिसका विपक्षी दलों ने विरोध किया लेकिन सत्ता पक्ष के सदस्यों का बहुमत होने से यह ध्वनि मत से पारित हो गया।

उत्तर प्रदेश सरकार ने वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए बुधवार को विधानसभा में 7301.52 करोड़ रुपये का अनुपूरक बजट पेश किया था। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मौजूदगी में वित्त मंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने अनुपूरक बजट प्रस्तुत करते हुए कहा था कि यह 7301.52 करोड़ रुपये का बजट है जो मौजूदा वित्तीय वर्ष के लिए निर्धारित पांच लाख 50 हजार करोड़ रुपये के वार्षिक बजट का 1.33 फीसद है।