8 हजार रुपए की दो बोतल शराब ऑर्डर करने पर आईएएस से 34 हजार की ठगी, साइबर पुलिस ने की चुपचाप जांच

यह ठगी मध्यप्रदेश के बहुचर्चित आईएएस लोकेश जांगिड़ के साथ हुई है जिन्हें अपने चार साल की नौकरी में आठ बार तबादले का सामना करना पड़ा है।

cyber crime तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटोः Freepik)

ऑनलाइन ठगी के मामले लगतार बढ़ते ही जा रहे हैं। ठग नए नए तरीकों को ईजाद कर लोगों के खातों से रूपए गायब कर देते हैं। मध्यप्रदेश से ऑनलाइन ठगी का एक मामला सामने आया है जहां ठग ने आम आदमी नहीं बल्कि एक आईएएस ऑफिसर से ही ऑनलाइन शराब डिलीवरी के नाम पर 8000 रूपए की दो बोतल शराब के लिए 34000 हजार की ठगी कर ली। मध्यप्रदेश पुलिस की साइबर सेल ने भी बदनामी के डर से इस मामले की चुपचाप जांच की।

यह ठगी मध्यप्रदेश के बहुचर्चित आईएएस लोकेश जांगिड़ के साथ हुई है जिन्हें अपने चार साल की नौकरी में आठ बार तबादले का सामना करना पड़ा है। दरअसल आईएएस अधिकारी लोकेश कुमार जांगिड़ बीते 11 जुलाई को ऑनलाइन शराब खरीदना चाह रहे थे। इसके लिए वो इंटरनेट पर सर्च भी कर रहे थे। इसी दौरान उन्हें एक व्हाट्सएप नंबर मिला। जब लोकेश जांगिड़ ने दिए गए व्हाट्सएप नंबर पर संपर्क किया तो उन्हें उसी नंबर से बाद में फोन आया।

फोन करने वाला शख्स ने अपने आप को शराब दुकान का कर्मचारी बताया और कहा कि आप जो शराब खरीदना चाहते हैं उसके लिए 8500 रुपए का एडवांस पेमेंट करना होगा। आईएएस अधिकारी ने फोन करने वाले शख्स की बातों में आकर 8500 रुपए जमा कर दिए। लेकिन फोन करने वाले शख्स ने कहा कि उस पेमेंट नहीं मिला है इसलिए आप फिर से पेमेंट कर दें। आईएएस अधिकारी ने उस शख्स को दोबारा से 8500 रुपए का भुगतान कर दिया।

इसके बाद भी शराब डिलीवरी का दावा करने वाले शख्स ने आईएएस अधिकारी से कहा कि उसे पैसे नहीं मिले हैं। इसके बाद उसने अपनी तरफ से एक क्यूआर कोड भेज कर उसे स्कैन करने को कहा। कोड मिलने के बाद जैसे ही आईएएस अधिकारी लोकेश कुमार जांगिड़ ने स्कैन किया तो उनके अकाउंट से 17000 रुपए कट गए। इसके बाद भी जब उस शख्स ने कहा कि उसे पैसे नहीं मिले हैं तो लोकेश जांगिड़ को अपने साथ हुई ऑनलाइन ठगी का अहसास हुआ।

जिसके बाद लोकेश जांगिड़ ने पुलिस से इसकी शिकायत की। पुलिस ने जांगिड़ की शिकायत पर गुपचुप तरीके से कार्रवाई करते हुए ठगी करने वाले राजस्थान के भरतपुर के रहने वाले  मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस इस मामले से जुड़े और दो लोगों की तलाश कर रही है जिसके लिए आरोपी काम किया करता था।