CM चन्नी ने केजरीवाल को बताया अवसरवादी और बाहरी, कहा- बना रहे मूर्ख, AAP की नजर सिर्फ वोट बैंक साधने में

चन्नी ने कहा कि 2022 के पंजाब चुनाव से पहले केजरीवाल द्वारा उद्योगपतियों से झूठे वादे किए जा रहे हैं। इस बीच संसदीय कार्य मंत्री ब्रह्म मोहिंद्रा ने भी केजरीवाल पर निशाना साधा।

Arvind Kejriwal Charanjit Singh चन्नी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल को एक अवसरवादी करार दिया। (फोटो-ANI)

पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने गुरुवार को आम आदमी पार्टी प्रमुख अरविंद केजरीवाल की आलोचना करते हुए कहा कि वह राज्य में 2022 के विधानसभा चुनावों से पहले लंबे-चौड़े वादे कर उद्योगपतियों को मूर्ख बना रहे हैं।

चन्नी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल को एक अवसरवादी करार दिया और कहा कि इस तरह की राजनीति से प्रेरित कदम आम आदमी पार्टी संयोजक को पंजाब चुनाव में फायदा नहीं पहुंचाएगा।

उन्होंने कहा कि बाहरी होने के नाते केजरीवाल का राज्य के विकास और कल्याण से दूर-दूर तक कोई लेना-देना नहीं है और उनकी नजर एक या दूसरे तबके के सिर्फ वोट बैंक पर है।

चन्नी ने कहा कि 2022 के पंजाब चुनाव से पहले केजरीवाल द्वारा उद्योगपतियों से झूठे वादे किए जा रहे हैं। इस बीच संसदीय कार्य मंत्री ब्रह्म मोहिंद्रा ने भी केजरीवाल पर निशाना साधा और कहा कि राज्य ने लालफीताशाही कम करने के लिए एक कानून लागू किया जा चुका है। मंत्री ने कहा, मैं केजरीवाल को पंजाब लालफीताशाही रोधी अधिनियम 2021 की एक प्रति भेज रहा हूं।

वहीं चन्नी ने कहा कि राज्य में कोई हफ्ता सिस्टम/गुंडा टैक्स नहीं है, जैसा कि केजरीवाल ने दावा किया है।

बता दें कि इस समय पंजाब कांग्रेस में उपजा कलह थमने का नाम नहीं ले रहा है। पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने वाले नवजोत सिंह सिद्धू ने गुरुवार को दिल्ली में कांग्रेस प्रभारी हरीश रावत और कांग्रेस के संगठन महासचिव के सी वेणुगोपाल से भी मुलाक़ात की।

मुलाकात के बाद उन्होंने कहा कि वे राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के सभी आदेश का पालन करेंगे। वहीं पंजाब के नए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी गुरुवार को पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह से मिलने उनके फ़ार्म हाउस पर पहुंचे।

गुरुवार को दिल्ली पहुंचे नवजोत सिद्धू ने पंजाब भवन में कई कांग्रेसी नेताओं से मुलाकात की। इसके बाद वे पंजाब कांग्रेस प्रभारी हरीश रावत से भी मिले। साथ ही वे कांग्रेस के संगठन महासचिव के सी वेणुगोपाल से मिले। दोनों नेताओं से मिलने के बाद नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि मैंने पंजाब के प्रति, पंजाब कांग्रेस के प्रति जो भी मेरी चिंताएं थी वो पार्टी हाई कमांड को बताई हैं। मुझे कांग्रेस अध्यक्ष पर, प्रियंका गांधी पर और राहुल गांधी पर पूरा भरोसा है। वे जो भी निर्णय लेंगे वो कांग्रेस और पंजाब के हित में होगा, उनके हर आदेश का पालन करूंगा।