Ind vs Eng: टीम इंडिया ने 25 साल बाद दोहराया इतिहास, अक्षर पटेल ने खत्म किया 42 साल का सूखा

अक्षर पटेल डेब्यू टेस्ट मैच में 5 विकेट लेने वाले 9वें भारतीय क्रिकेटर हैं। वह डेब्यू टेस्ट में 5 विकेट लेने वाले छठे भारतीय स्पिनर हैं। उनसे पहले रविचंद्रन अश्विन ने 2011/12 में दिल्ली में वेस्टइंडीज के खिलाफ अपने डेब्यू टेस्ट मैच में 47 रन देकर 6 विकेट लिए थे।

India vs England Virat Kohli Ashwin Axar Patel

भारतीय क्रिकेट टीम ने 16 फरवरी 2021 को चेन्नई के चेपॉक स्टेडियम में इतिहास रच दिया। उसने इंग्लैंड के खिलाफ 317 रन से जीत हासिल की। टीम इंडिया 1932 से टेस्ट क्रिकेट खेल रही है। उसने पहली बार इंग्लैंड को 300 के ज्यादा रन के अंतर से हराया है। इस जीत के साथ ही उसने 25 साल पुराना इतिहास भी दोहराया। यही नहीं, इस मैच से टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू करने वाले अक्षर पटेल ने भी 42 साल का सूखा खत्म किया।

भारतीय क्रिकेट टीम को इस सीरीज के पहले टेस्ट मैच में इंग्लैंड के हाथों 227 रन से हार झेलनी पड़ी थी। उसके अगले ही मैच में टीम इंडिया ने 200 के ज्यादा रन के अंतर से जीत हासिल की। टीम इंडिया ने ऐसा कारनामा 25 साल बाद किया है। इससे पहले उसने 1996 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज के दौरान ऐसा ही कारनामा किया था। उस समय दक्षिण अफ्रीका ने कोलकाता के ईडन गार्डंस में खेले गए टेस्ट मैच में भारत को 329 रन से हरा दिया था। सीरीज का अगला मैच कानपुर के ग्रीनपार्क स्टेडियम में खेला गया। उस मैच में भारत ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 280 रन से जीत हासिल की।

इस टेस्ट मैच से बाएं हाथ के स्पिनर अक्षर पटेल ने टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू किया। उन्होंने पहली पारी में 40 रन देकर 2 और दूसरी पारी में 60 रन देकर 5 विकेट लिए। डेब्यू टेस्ट में बाएं हाथ के भारतीय स्पिनर ने 42 साल बाद 5 विकेट लिए हैं। इससे पहले 1979 में बाएं हाथ के स्पिनर दिलीप दोशी ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपने डेब्यू टेस्ट मैच में 5 विकेट लिए थे। उसके बाद से बाएं हाथ का कोई भी भारतीय स्पिनर अपने डेब्यू टेस्ट में 5 विकेट नहीं ले पाया था। खास यह है कि दिलीप दोशी ने भी यह कारनामा चेन्नई के ही मैदान पर किया था।

अक्षर पटेल डेब्यू टेस्ट मैच में 5 विकेट लेने वाले 9वें भारतीय क्रिकेटर हैं। वह डेब्यू टेस्ट में 5 विकेट लेने वाले छठे भारतीय स्पिनर हैं। उनसे पहले रविचंद्रन अश्विन ने 2011/12 में दिल्ली में वेस्टइंडीज के खिलाफ अपने डेब्यू टेस्ट मैच में 47 रन देकर 6 विकेट लिए थे। इन दोनों के अलावा अमित मिश्रा, नरेंद्र हिरवानी, दिलीप दोशी, वीवी कुमार ने अपने-अपने डेब्यू टेस्ट मैच में 5-5 विकेट लिए थे।

अमित मिश्रा ने 2008/09 में मोहाली में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 71 रन देकर 5, हिरवानी ने 1987/88 में चेन्नई में वेस्टइंडीज के खिलाफ पहली पारी में 61 रन देकर 8 और दूसरी पारी में 75 रन देकर 8, दिलीप दोशी ने 1979/80 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 103 रन देकर 6, वीवी कुमार ने 1960/61 में दिल्ली में 64 रन देकर 5 विकेट लिए थे।