Indian Railways IRCTC जनरल बोगी में भीड़ कम करने को लेकर आई यह प्लान! देगी रिजर्वेशन की सुविधा, ऐसे मिलेगा टिकट

बॉयोमेट्रिक टोकन मशीन के जरिए सामान्य डिब्बों के लिए अब यात्रियों को टिकट जारी होगा। इसे लेने के लिए उन्हें मशीन पर अपना अंगूठा लगाना होगा। जिससे मशीन यात्री की जानकारी स्वत: प्राप्त कर लेगा। टिकट पाने वाले यात्री ही सामान्य डिब्बों में यात्रा कर सकेंगे।

Indian Rail, IRCTC, New Delhi, Lucknow Indian Railways IRCTC: (एक्सप्रेस आर्काइव फोटोः अमित चक्रवर्ती)

रेलवे ने ट्रेन के सामान्य डिब्बों में होने वाली यात्रियों की भीड़ को कम करने के लिए टोकन सिस्टम लेकर आया है। बता दें कि इस कदम से लोगों को यात्रा करने में सहूलियत तो मिलेगी ही, वहीं सामान्य डिब्बों में भीड़ भी कम होगी। जिससे यात्री आरामदायक यात्रा कर सकेंगे। भारतीय रेलवे की तरफ से इस सुविधा के लिए बॉयोमेट्रिक टोकन मशीन लगाई गई है, जिससे लोग जनरल कोच के लिए भी टोकन ले सकेंगे।

ऐसे मिलेगा टिकट: इस मशीन के जरिए यात्री अपनी यात्रा का विवरण देते हुए सामान्य डिब्बों के लिए भी टिकट ले सकेंगे। यात्रियों को टिकट लेने के लिए मशीन पर अपना अंगूठा भी लगाना होगा। जिससे मशीन आपकी जानकारी स्वत: प्राप्त कर लेगा। टिकट पाने वाले यात्री ही सामान्य डिब्बों में यात्रा कर सकेंगे। बता दें कि टोकन जारी करने के पीछे रेलवे की मंशा है कि चालू डिब्बों में सफर के दौरान भीड़ और धक्का-मुक्की पर नियंत्रण लगेगा।

हालांकि इस तरह का प्रयोग अभी सिर्फ साउथ सेंट्रल रेलवे के सिकंदराबाद स्टेशन पर ही किया गया है। इसके बाद अब सामान्य डिब्बों में वही यात्री यात्रा कर सकेंगे, जिनेक पास बॉयोमेट्रिक टोकन होगा। दरअसल टोकन पर यात्रियों के सीट की जानकारी, सीरियल नंबर और कोच नंबर लिखा होता है।

इस व्यवस्था रेलवे ट्रेन में होने वाली आपराधिक गतिविधियों पर लगाम लगा सकेगा। दरअसल, टोकन व्यवस्था को अपनाने से हर यात्री की डिटेल रेलवे के पास होगी, ऐसे में कोई भी अपराध होने पर आसानी से पकड़ा जा सकेगा।

वहीं यात्रा के दौरान अगर किसी यात्री को कोई असुविधा होती है तो ‘रेल मदद एप’ के जरिए आप अपनी शिकायत भी दर्ज करा सकते हैं। बता दें कि भारतीय रेलवे दुनिया का चौथा सबसे बड़ा रेल नेटवर्क है। हर रोज लगभग दो करोड़ यात्री यात्रा करते हैं। ऐसे में लोगों को होने वाली समस्याओं को देखते हुए ‘रेल मदद’ प्लेटफॉर्म बनाया गया है।

बता दें कि ‘रेल मदद एप’ पर जाकर यात्री अपने टिकट का नंबर दर्ज शिकायत कर सकते हैं। जैसे सफर के दौरान अगर यात्री को पानी, बिजली और साफ-सफाई के लिए शिकायत दर्ज करानी है तो इस ऐप की मदद ले सकते हैं। इसके अलावा अगर यात्री को किसी और तरह की परेशानी है, जैसे रेलवे के किसी कर्मचारी के व्यवहार या फिर काम के रवैये को लेकर शिकायत करना चाहते हैं तो भी इस एप की मदद से ले सकते हैं।