INDW vs AUSW: मजबूत ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारतीय महिला क्रिकेट टीम का दमदार प्रदर्शन, पहला पिंक बॉल टेस्ट हुआ ड्रॉ

India Women vs Australia Women: पहली पारी में शतक लगाने वाली स्मृति मंधाना प्लेयर ऑफ द मैच चुनी गईं। स्मृति मंधाना ने पहली पारी में 127 और दूसरी पारी में 31 रन बनाए थे।

INDW vs AUSW भारत और ऑस्ट्रेलिया की महिलाओं के बीच खेला गया पहला पिंक बॉल बिना किसी नतीजे पर खत्म हुआ। (सोर्स- ट्विटर/आईसीसी)

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच रविवार यानी 3 अक्टूबर 2021 को गोल्ड कोस्ट एकमात्र दिन रात्रि महिला टेस्ट ड्रॉ रहा। भारतीय टीम ने पहली पारी आठ विकेट पर 377 रन पर घोषित की थी। इसके जवाब में ऑस्ट्रेलिया ने पहली पारी नौ विकेट पर 241 रन पर घोषित की। मैच का नतीजा निकले इसलिए भारत ने चौथे और अंतिम दिन चाय के बाद पारी घोषित करने का फैसला लिया।

भारत ने पहली पारी में 136 रन की बढ़त हासिल की थी। उसने अपनी दूसरी पारी 3 विकेट पर 135 रन पर घोषित की। ऑस्ट्रेलिया को जीत के लिए 272 रन का लक्ष्य मिला। जिस समय भारत ने दूसरी पारी घोषित की थी, तब 32 ओवर फेंके जाने शेष थे।

हालांकि, 15 ओवर के बाद ही दोनों कप्तान यानी मिताली राज और मेग लेनिंग मैच खत्म करने के लिए तैयार हो गईं। जिस समय मैच ड्रॉ घोषित किया गया, उस समय ऑस्ट्रेलिया का स्कोर 15 ओवर में 2 विकेट पर 36 रन था। पहली पारी में शतक लगाने वाली स्मृति मंधाना प्लेयर ऑफ द मैच चुनी गईं। स्मृति मंधाना ने पहली पारी में 127 और दूसरी पारी में 31 रन बनाए थे।

भारत की दूसरी पारी में सलामी बल्लेबाज शेफाली वर्मा ने शानदार अर्धशतक लगाया। डे-नाइट (पिंक बॉल) महिला टेस्ट के चौथे और अंतिम दिन स्मृति मंधाना (31) सोफी मोलिन्यु की गेंद पर एशले गार्डनर को डीप में शानदार कैच देकर आउट हुईं। यास्तिका भाटिया (03) को तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए भेजा गया, लेकिन वह केवल 12 गेंद ही खेल पाईं।

इससे पहले भारत की तेज गेंदबाजों ने नई गुलाबी गेंद से शानदार प्रदर्शन किया। नतीजा यह रहा है कि दबाव में आई ऑस्ट्रेलियाई टीम की कप्तान मेग लैनिंग ने पहली पारी नौ विकेट पर 241 रन पर समाप्त घोषित करने का दिलचस्प फैसला किया। ऑस्ट्रेलिया ने चौथे दिन तीन विकेट पर 143 रन पर खेलना शुरू किया।

एलिस पैरी (नाबाद 68) और एशले गार्डनर (51) 89 रन की साझेदारी कर चुकी थीं। इसके बाद भारतीय तेज गेंदबाजों ने ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाजी क्रम के चरमराने की शुरुआत की। भारतीय पेसर्स ने ऑस्ट्रेलिया को 4 विकेट पर 208 रन से नौ विकेट पर 240 रन तक पहुंचा दिया।