IPL 2021: कोरोना से बचने के लिए BCCI के कड़े नियम: रोज होगा कोविड टेस्ट, इस टेक्नोलॉजी से खिलाड़ियों पर रहेगी नजर

आईपीएल से जुड़े 36 लोग अब तक कोविड पॉजिटिव हो चुके हैं। इनमें देवदत्त पडिक्कल, डैनियल सैम्स, अक्षर पटेल, नीतीश राणा और किरण मोरे भी शामिल हैं।

IPL 2021, BCCI, BCCI rule, Coronavirus, covid19

इंडियन प्रीमियर लीग का 14वां सीजन शुक्रवार (9 अप्रैल) से शुरू हो रहा है। देश में फैले कोरोनावायरल के बावजूद भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने इसे भारत में ही आयोजित करने का फैसला किया है। पिछली बार यूएई में खेला गया था। बीसीसीआई ने कोरोना से बचाव के लिए कड़े नियम बनाए हैं। वह पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) की तरह कोई लापरवाही नहीं करना चाह रही। बोर्ड ने हर दिन कोविड टेस्ट, टेक्नोलॉजी के सहारे खिलाड़ियों पर नजर रखने सहित कई प्रयास किए हैं।

आईपीएल से जुड़े 36 लोग अब तक कोविड पॉजिटिव हो चुके हैं। इनमें देवदत्त पडिक्कल, डैनियल सैम्स, अक्षर पटेल, नीतीश राणा और किरण मोरे भी शामिल हैं। सीबीसीसीआई ने इस बार टूर्नामेंट का आयोजन छह शहरों में ही करने का प्लान बनाया है। टीमों को सिर्फ तीन बार एक से दूसरे शहर के बीच यात्रा करनी है। इसके लिए एयरपोर्ट पर अलग से चेक-इन काउंटर की तैयारी है। बोर्ड ने इसके लिए भारत सरकार के पास आवेदन भेजा है। अगर इसकी अनुमति मिल गई तो खिलाड़ियों का बायो-बबल नहीं टूटेगा।

किरण मोरे चेन्नई के लिए फ्लाइट पकड़ने से पहले निगेटिव थे। वहां पहुंचने के बाद वे पॉजिटिव पाए गए। ऐसा माना जा रहा है कि वे यात्रा के दौरान ही किसी के संपर्क में आए थे। बीसीसीआई इसलिए एयरपोर्ट पर अलग से चेक-इन काउंटर की व्यवस्था में लगा है। इसके अलावा बोर्ड ने हर टीम का कोविड टेस्ट रोज कराएगा। इससे इंफेक्शन को पकड़ने में कामयाबी मिलेगी। साथ ही एक बायो-बबल ऑफिसर भी होगा। वह यह सुनिश्चित करेगा कि कोई भी मास्क के बगैर अपने कमरे से बाहर नहीं निकले। ऐसा नहीं करने पर उन्हें होटल के कॉमन एरिया का इस्तेमाल नहीं करने दिया जाएगा। खिलाड़ियों को मैदान से बाहर जाते समय मास्क भी पहनना होगा।

खिलाड़ियों के अलावा ग्राउंड्समैन के लिए अलग से बायो-बबल बनाया गया है। बीसीसीआई ने दावा किया है कि सभी टीमों को ब्लूटूथ डिवाइस दिया गया है। इससे सबको ट्रैक किया जा सकेगा। बोर्ड ने इसके लिए Gem3s टेक्नोलॉजी प्राइवेट लिमिटेड से करार किया है। हालांकि, चार फ्रैंचाइजियों ने इंडियन एक्सप्रेस को बताया है कि उन्हें अभी तक ब्लूटूथ डिवाइस नहीं मिला है। टूर्नामेंट का पहला मुकाबला चेन्नई में गत चैंपियन मुंबई इंडियंस और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के बीच खेला जाएगा।