IPL 2021, MI vs CSK: पोलार्ड ने जड़ा आईपीएल का अबसे तेज अर्धशतक, मुंबई ने चेन्नई को 4 विकेट से हराया

IPL 2021 MI vs CSK: पोलार्ड की आतिशी पारी की मदद से मुंबई इंडियंस ने चेन्नई द्वारा दिये गए 218 रनों के लक्ष्य को आखिरी गेंद में पा लिया। यह आईपीएल इतिहास की दूसरी सबसे बड़ी चेस थी।

IPL 2021, kiren pollard, mumbai indiansm chennai super kingsIPL 2021: मुंबई इंडियंस ने आईपीएल का दूसरा सबसे बड़ा स्कोर चेस किया। (source: IPL official site)

IPL 2021 MI vs CSK: कायरन पोलार्ड (34 गेंदों पर 6 चौके और 8 छक्के के सहारे नाबाद 87) ने तूफानी पारी खेलते हुए शनिवार को यहां अरुण जेटली स्टेडियम में खेले गए आईपीएल के 14वें सीजन के 27वें मुकाबले में चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ मौजूदा चैम्पियन मुंबई इंडियंस को 4 विकेट से जीत रोमांचक जीत दिला दी। चेन्नई ने टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए चार विकेट पर 218 रनों का विशाल स्कोर बनाया, जिसे मुंबई ने अंतिम गेंद पर पोलार्ड के पराक्राम की बदौलत छह विकेट खोकर हासिल कर लिया।

मुंबई की सात मैचों में यह चौथी जीत है और टीम 8 अंकों के साथ चौथे नंबर पर है। चेन्नई को सात मैचों में दूसरी हार झेलनी पड़ी है और टीम 10 अंकों के साथ अभी भी टॉप पर कायम है।

चेन्नई से मिले 219 रनों के विशाल लक्ष्य का पीछा करने उतरी मुंबई को कप्तान रोहित शर्मा (35) और क्विंटन डीकॉक ने (38) ने पहले विकेट के लिए 7.4 ओवर में 71 रन की साझेदारी करके मजबूत शुरुआत दी। इसके बाद रोहित आउट हो गए।

कप्तान के आउट होने के बाद मुंबई ने अगले 10 रन के अंदर ही अपने तीन विकेट गंवा दिए। इनमें सूर्यकुमार यादव (3) और डीकॉक के विकेट शामिल हैं। रोहित ने 24 गेंदों पर चार चौके और एक छक्का और डीकॉक ने 28 गेंदों पर चार चौके और एक छक्का लगाया।

81 रन पर तीन विकेट गंवाने के बाद मुंबई की सारी उम्मीदें अब पोलार्ड का आ टिकी। पोलार्ड ने अपने नाम के अनुरूप ही विस्फोटक पारी खेलते हुए मुंबई को उम्मीदों को जिंदा रखा।

उन्होंने 17 गेंदों पर अपना अर्धशतक पूरा करके इस सीजन का सबसे तेज अर्धशतक बनाया। चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ किसी भी बल्लेबाज का यह सबसे तेज अर्धशतक है। इससे पहले यह रिकॉर्ड लोकेश राहुल के पास था, जो उन्होंने 2019 में 19 गेंदों में बनाया था।

पोलार्ड यहीं नहीं रूके और उन्होंने क्रुणाल पांड्या (32) के साथ चौथे विकेट के लिए 44 गेंदों पर ही 89 रनों की साझेदारी करके मुंबई को जीत के नजदीक ला दिया। मुंबई को अंतिम चार ओवरों में जीत के लिए 50 रन बनाने थे और उसने अंतिम गेंद पर लक्ष्य हासिल कर लिया।

पोलार्ड ने 34 गेंदों पर छह चौके और आठ छक्के लगाए। हार्दिक पांड्या ने 16 रन बनाए। पोलार्ड ने साथ ही इस सीजन का सबसे तेज अर्धशतक पूरा किया। मुंबई ने अंतिम 10 ओवरों में 138 रन बनाए।

चेन्नई की ओर से सैम करन ने तीन और शार्दूल ठाकुर, रवींद्र जडेजा तथा मोईन अली ने एक-एक विकेट लिए।

इससे पहले, चेन्नई सुपर किंग्स ने अंबाती रायडु (27 गेंदों पर 4 चौके और 7 छक्के की मदद से नाबाद 72 रन), मोईन अली (58) और फाफ डुप्लेसिस (50) के अर्धशतकों की बदौलत मुंबई इंडियंस के सामने जीत के लिए 219 रनों का लक्ष्य रखा। चेन्नई ने चार विकेट पर 218 रन का स्कोर बनाया।

टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी चेन्नई की शुरुआत खराब रही और टीम ने चार रन के स्कोर पर ही ऋतुराज गायकवाड़ (4) का विकेट गंवा दिया। इसके बाद हालांकि मोईन और डुप्लेसिस ने दूसरे विकेट के लिए 61 गेंदों पर 108 रनों की शतकीय साझेदारी करके टीम को मजबूत स्थिति में पहुंचाने की कोशिश की।

मोईन टीम के 112 के स्कोर पर आउट हुए। उनके आउट होने के बाद चेन्नई ने अगले चार रन के अंदर ही अपने चार विकेट गंवा दिए। इनमें डुप्लेसिस के अलावा सुरेश रैना (2) के भी विकेट शामिल है।

हालांकि रायडु ने रवींद्र जडेजा (नाबाद 22) के साथ मिलकर पांचवें विकेट के लिए 56 गेंदों पर 102 रनों की साझेदारी करके चेन्नई को विशाल स्कोर तक पहुंचा दिया। डुप्लेसिस ने 28 गेंदों पर दो चौके और चार छक्के जबकि मोईन ने 36 गेंदों पर पांच चौके और इतने ही छक्के लगाए। रायडु ने मात्र 27 गेंदों पर चार चौके और सात छक्के लगाए। जडेजा ने 22 गेंदों पर दो चौके जड़े।

मुंबई इंडियंस की ओर से जसप्रीत बुमराह ने चार ओवर में 56 रन लुटाए। बुमराह का आईपीएल इतिहास में अब तक का यह सबसे महंगा स्पेल है। उनके अलावा कायरन पोलार्ड ने दो ट्रेंट बोल्ट ने एक विकेट लिए।

चेन्नई के बल्लेबाजों ने मैच में 16 छक्के उड़ाए, जोकि आईपीएल के एक पारी में मुंबई इंडियंस द्वारा लुटाए सबसे ज्यादा छक्के हैं। वहीं, चेन्नई की टीम ने 2008 के बाद पहली बार मुंबई के खिलाफ 200 या उससे ज्यादा का स्कोर बनाया है। चेन्नई ने अंतिम 5 ओवर में 82 रन बनाए।