National Sports Day पर भारत के लिए टोक्यो से आई खुशखबरी, भाविनाबेन पटेल ने पैरालंपिक में सिल्वर मेडल जीत रचा इतिहास

भारत के राष्ट्रीय खेल दिवस के अवसर पर रविवार को टोक्यो से खुशखबरी आई है। भारत की पैरा पैडलर भाविनाबेन पटेल ने इतिहास रचते हुए टोक्यो पैरालंपिक में भारत को पहला मेडल दिलाया है। भाविना सिल्वर मेडल जीतकर पैरालंपिक में मेडल जीतने वाली पहली टेबल टेनिस खिलाड़ी बन गई हैं।

national-sports-day-paddler-bhavinaben-patel-won-silver-medal-in-tokyo-paralympics-created-history-table-tennis राष्ट्रीय खेल दिवस पर आज टोक्यो पैरालंपिक में भारत को पहला मेडल मिला है, भाविनाबेन पटेल ने सिल्वर जीतकर इतिहास रच दिया है (Source: SAI)

टोक्यो ओलंपिक 2020 (Tokyo Olympics 2020) में इतिहास रचने के बाद टोक्यो में जारी पैरालंपिक खेलों में भी भारत के पदकों का खाता खुल चुका है। रविवार को भारत की टेबल टेनिस खिलाड़ी भाविनाबेन पटेल विश्व नंबर एक झोउ यिंग से फाइनल मुकाबले में 0-3 से हार जरूर गईं लेकिन सिल्वर मेडल जीतकर उन्होंने देश के लिए इतिहास रच दिया है।

आज सुबह हुआ फाइनल मुकाबले में चीन की झोउ यिंग ने भाविनाबेन पटेल को 0-3 से मात दी। इससे पहले सेमीफाइनल में भाविना ने चीन की ही मियाओ झांग को 3-2 से मात देकर फाइनल में जगह बनाई थी।

वहीं आज मेडल आना इसलिए भी खास है क्योंकि आज देश अपना राष्ट्रीय खेल दिवस (National Sports Day) भी मना रहा है। भारत में प्रत्येक वर्ष 29 अगस्त को हॉकी के हीरो मेजर ध्यानचंद की जयंती पर राष्ट्रीय खेल दिवस मनाया जाता है। आज के दिन टोक्यो से भारत के लिए खुशखबरी आना निश्चित ही पूरे देश के लिए हर्ष की बात है।

फाइनल में पहुंचते ही बनाए थे ये रिकॉर्ड

भाविनाबेन ने टोक्यो पैरालंपिक में सिल्वर मेडल जीतकर भारत के लिए इतिहास रच दिया है। वह भारत के लिए पैरालंपिक में मेडल जीतने वाली दूसरी महिला बन गई हैं। वहीं टेबिल टेनिस में वह भारत के लिए मेडल जीतने वाली पहली खिलाड़ी भी बन गई हैं।

इसके अलावा पैरालंपिक में वह सिल्वर मेडल जीतने वाली भी पहली भारतीय महिला खिलाड़ी हैं। इससे पहले रियो पैरालंपिक में गोला फेंक खिलाड़ी दीपा मलिक ने ब्रॉन्ज मेडल जीता था। वहीं आज से पहले टेबल टेनिस में भारत को कभी भी कोई मेडल नहीं मिला था।

गौरतलब है कि सेमीफाइनल में पहुंचने के साथ ही भाविना ने इतिहास रच दिया था। उनसे पहले कोई भी भारतीय पैरा टोक्यो पैरालंपिक्स के टेबल टेनिस के क्वार्टर फाइनल तक भी नहीं पहुंचा था। भाविना ने सेमीफाइनल में पहुंचकर ये रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया था। क्वार्टर फाइनल से पहले भाविना ने ग्रेट ब्रिटेन की मेगान शैकलेटॉन को 3-1 से हराया था।