PM मोदी के विदेश दौरे से लेकर एयरक्राफ्ट तक का खर्च गिना कोसने लगे बॉलीवुड एक्टर, बोले- जनता के लिए ऑक्सीजन तक नहीं

बॉलीवुड अभिनेता केआरके ने एक के बाद एक, कई ट्वीट किये और पीएम मोदी के विदेश दौरे से लेकर एयरक्राफ्ट तक का खर्च गिनाते हुए उन्हें कोसते नजर आए।

KAMAL R KHAN, Modi Government, PM Modi, Bollywood Actor KRK, कमाल आर खान, पीएम मोदी

देशभर में कोरोना संक्रमण से हालात बेकाबू नजर आ रहे हैं। इसी बीच बॉलीवुड एक्टर कमाल आर. खान (KRK) ने एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है। केआरके ने एक के बाद एक, कई ट्वीट किये और पीएम मोदी के विदेश दौरे से लेकर एयरक्राफ्ट तक का खर्च गिनाते हुए उन्हें कोसते नजर आए। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में देश की ऐसी हालत हो गई है कि लोगों को ऑक्सीजन तक नहीं मिल पा रही है।

कमाल आर. खान ने अपनी पोस्ट में कहा- ‘मोदी जी ने कितना खर्च किया- पटेल स्टैच्यू पर 3000 करोड़, कुंभ मेले में 15000 करोड़, सेंट्रल विस्ता में 20,000 करोड़, पीएम एयरक्राफ्ट में 8050 करोड़, बीजेपी दिल्ली ऑफिस में 700 करोड़, नमस्ते ट्रंप पर 100 करोड़, सालाना पीएम सिक्योरिटी पर 591 करोड़,  पीएम फॉरेन ट्रिप पर 2000 करोड़। टोटल- 49,441 करोड़। लेकिन एक आम आदमी को ऑक्सीजन फ्री में नहीं मिल सकती।’

अपनी अगली पोस्ट में केआरके ने लिखा, ‘इंडिया ने भूटान को दान में दिए-10,000 करोड़, Mangolia को 73,000 करोड़, बांग्लादेश को 15,000 करोड़, मॉरीशियस को 5000, नेपाल और अफ्रीकन कंट्रीज को 39,000 करोड़। टोटल-1,42,000 करोड़। कॉर्पोरेट का 5,55,000 करोड़ माफ किया। टोटल-6,97,000 करोड़। लेकिन गवर्नमेंट के पास लोगों के लिए फ्री वैक्सीन नहीं है।’

केआरके ने आगे कहा- ‘मोदी सर दुनिया के सबसे बेहतरीन PM हैं। वह स्टेट गवर्नमेंट से कहते हैं कि आप डायरेक्ट विदेशों से दवाइयां खरीद लो। सेंट्रल गवर्नमेंट के पास लोगों के वैक्सीन खरीदने के लिए पैसे नही हैं। लेकिन पाकिस्तान और बांग्लादेश को फ्री में वैक्सीन देने के लिए पैसे हैं।’

केआरके की इन पोस्ट पर तमाम यूजर्स भी अपनी प्रतिक्रिया देने लगे। एक यूजर ने कहा- ‘कम से कम मोदी ने पब्लिक डोमेन में सब शो किया है। उस का क्या जो 70 सालों में ब्लैक मनी का झोल चलता रहा? क्या हमारे पास उन सालों के कोई रिकॉर्ड्स हैं? दम है तो डाटा कलेक्ट करो ऑफिशियली और नॉन ऑफिशियली रिकॉर्ड।’

भंसाली नाम के यूजर ने लिखा- भाई, आप सिर्फ निगेटिविटी फैलाते- फैलाते थकते नही हो क्या? रोहित सिंह नाम के यूजर बोले- वैक्सीन फ्री ही लग रही है, लेकिन राज्य सरकार अपने मुताबिक चलना चाहती थीं। इसलिए ऐसे किया था, सभी की हालत 12 दिन खराब हो गई, अगले महीने से केन्द्र सरकार सुनियोजित करेगी देख लेना।