PM Kisan Yojana: अगर पति-पत्नी ने एकसाथ कर दिया अप्लाई तो क्या होगा? जानें क्या हैं नियम

शर्तों के आधार पर ही यह तय होता है कि किन्हें इसका लाभ मिलेगा और किन्हें नहीं। एक ऐसा ही सवाल किसानों के मन में रहता है कि अगर पति-पत्नी ने इस योजना के लिए एकसाथ अप्लाई कर दिया तो क्या होगा?

फाइल फोटो (PTI)

PM Kisan Yojana: प्रधान मंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत किसानों को सालाना 6 हजार रुपये की आर्थिक मदद दी जाती है। लाभार्थी किसानों को 2-2 हजार रुपये की तीन किस्त के जरिए यह पैसा सीधे बैंक खाते में ट्रांसफर किया जाता है। इस योजना के लिए कुछ शर्तें बनाई गई हैं।

इन शर्तों के आधार पर ही यह तय होता है कि किन्हें इसका लाभ मिलेगा और किन्हें नहीं। एक ऐसा ही सवाल किसानों के मन में रहता है कि अगर पति-पत्नी ने इस योजना के लिए एकसाथ अप्लाई कर दिया तो क्या होगा?

PM Kisan Yojana: लाभार्थी सूची के लिए ऐसे शॉर्टलिस्ट होते हैं किसानों के नाम, जानें पूरा प्रॉसेस

नियमों के मुताबिक एक समय पर पति-पत्नी दोनों इस योजना का लाभ नहीं ले सकते। ऐसा इसलिए क्योंकि परिवार के एक ही सदस्य को इसका लाभ मिल सकता है। यहां यह ध्यान देना होगा कि भारत में परिवार का मतलब पति-पत्नी और बच्चे हैं।

वहीं किसी परिवार में पति पत्नी दोनों को किस्त मिल रही है तो नियमों के मुताबिक इसे रिकवर किया जा सकता है। अगर सरकार की नजर में यह जानकारी आती है तो रिकवरी की जा सकती है। इसके साथ ही एक लाभार्थी को सूची से बाहर भी किया जाएगा।

साल 2019 में शुरू की गई इस स्कीम के तहत अबतक 9 किस्त जारी की जा चुकी हैं। कई किसान ऐसे भी हैं जिन्होंने इस स्कीम के तहत आवेदन किया लेकिन उन्हें लाभ नहीं मिल सका। कुछ गलतियां हैं जिन्हें आवेदन में दर्ज करने पर किस्त रोक ली जाती है। मसलन आवेदनकर्ता का नाम और बैंक खाते में आवेदनकर्ता का नाम एक समान न होना।