RBI ने हाल में लिए हैं ये बड़े फैसले, आम लोगों पर इनका सीधा असर!

फैसला 1 अक्टूबर से लागू होगा। हालांकि शर्त यह है कि बैंक के एटीएम में किसी महीने 10 घंटे भी कैश उपलब्ध नहीं रहता है तो ही यह जुर्माना लगेगा।

ATM में कैश नहीं रखा तो बैंकों पर जुर्माना लगेगा। (फाइल फोटो) सोर्स: PTI

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) ने हाल में कई ऐसे फैसले लिए हैं जिनका असर आम लोगों पर हो रहा है। सबसे पहले बात करें देश के बड़े प्राइवेट बैंकों में से एक एचडीएफसी की तो आरबीआई ने इसे नए कार्ड जारी करने के लिए बैंक पर लगाए गए प्रतिबंधों में राहत दी है।

देश के शीर्ष बैंक ने दिसंबर और फरवरी में ऑर्डर जारी किया था। इस ऑर्डर के तहत बैंक पर नए क्रेडिट कार्ड जारी करने पर रोक लगाई थी। ऐसा एचडीएफसी के मोबाइल-इंटरनेट बैंकिंग और पेमेंट सर्विस में बाधा के चलते किया गया था।

अगले तीन से चार महीनों तक ये बैंक ग्राहकों को नहीं इश्यू कर पाएगा क्रेडिट कार्ड, जानें वजह

ATM में कैश नहीं रखा तो बैंकों पर लगेगा जुर्माना

रिजर्व बैंक ने आम नागरिकों को एटीएम कैश निकासी के दौरान होने वाली सबसे बड़ी परेशानी में से एक को दूर करने की कोशिश की है। आरबीआई के फैसले के तहत आम लोगों की दिक्कतों को देखते हुए अब अगर बैंकों ने एटीएम में कैश नहीं रखा तो उनपर जुर्माना लगाया जाएगा। यह फैसला 1 अक्टूबर से लागू होगा। हालांकि शर्त यह है कि बैंक के एटीएम में किसी महीने 10 घंटे भी कैश उपलब्ध नहीं रहता है तो ही यह जुर्माना लगेगा।

NACH अब हफ्ते के सभी दिनों उपलब्ध

ग्राहकों को दिन-प्रतिदिन के बैंकिंग कार्यों को लेकर अगस्त के शुरुआत में बदलाव देखने को मिला है। आरबीआई के फैसले के बाद राष्ट्रीय स्वचालित समाशोधन गृह (NACH) 1 अगस्त से हफ्ते के सभी दिनों में उपलब्ध कर दिया गया। इसका फायदा यह होगा कि सैलरी और पेंशन रविवार या त्योहारी छुट्टी वाले दिन भी बैंक खाते में आ सकेगी। एनएसीएच भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (एनपीसीआई) द्वारा संचालित बल्क पेमेंट सिस्टम है।