Sagar Rana murder case: ओलंपिक पदक विजेता सुशील कुमार के खिलाफ जारी हुआ गैर जमानती वारंट, ‘शिष्य’ की हत्या का है आरोप

छत्रसाल स्टेडियम पार्किंग क्षेत्र में विवाद के दौरान सागर राणा की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। घटना के बाद सुशील कुमार के खिलाफ हत्या, अपहरण और आपराधिक साजिश का मामला दर्ज किया गया था।

sushil kumar

दिल्ली की एक अदालत ने 23 वर्षीय पूर्व जूनियर राष्ट्रीय कुश्ती चैंपियन सागर राणा की हत्या के मामले में दो बार के ओलंपिक पदक विजेता सुशील कुमार और नौ अन्य के खिलाफ शनिवार को गैर-जमानती वारंट जारी किया। दिल्ली पुलिस ने पहले पहलवान के खिलाफ लुक-आउट-सर्कुलर जारी किया था। माना जा रहा है कि दिल्ली पुलिस ने सुशील कुमार की गिरफ्तारी पर इनाम की घोषणा करने का भी फैसला किया है।

पुलिस ने कहा कि उन्होंने कुमार के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी करने के लिए अदालत में एक आवेदन दिया और उन्होंने उनके आवेदन को मंजूरी दे दी। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘‘हमने दिल्ली सरकार को एक पत्र भी भेजा, जिसमें बताया गया कि पीड़ितों द्वारा उनके अधिकारी, सुशील कुमार और उनके सहयोगी, अजय कुमार, जो एक शारीरिक शिक्षा शिक्षक हैं, का नाम लिया गया है। उसके खिलाफ विभागीय कार्रवाई की जानी चाहिए। एक प्राथमिकी दर्ज करने के बाद हमने उन्हें (सुशील कुमार) नोटिस दिया, लेकिन उन्होंने अपना फोन बंद कर दिया और तब से उनका पता नहीं चल रहा है।’’

वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने आगे कहा, ‘‘हमने उसके दोस्तों के आवासों पर भी छापेमारी की और अब उसकी गिरफ्तारी के लिए सूचना देने वाले को इनाम देने की घोषणा करने का फैसला किया है और एक फाइल वरिष्ठ अधिकारियों के सामने रखी गई है।’’ छत्रसाल स्टेडियम पार्किंग क्षेत्र में विवाद के दौरान सागर राणा की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। घटना के बाद सुशील कुमार के खिलाफ हत्या, अपहरण और आपराधिक साजिश का मामला दर्ज किया गया था।

सागर राणा के पिता अशोक धनखड़ ने इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में कहा था, ‘‘सुशील को वह (राणा) अपना गुरु मानता था। वह लगभग आठ वर्षों से छत्रसाल में था। मैंने अपने बेटे को छत्रसाल अखाड़ा चलाने वाले महाबली सतपाल को सौंप दिया। उन्होंने उसे एक अच्छा पहलवान बनाने का वादा किया। उसने पदक जीते हैं और अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में भारत का प्रतिनिधित्व किया है। उसे छत्रसाल का हिस्सा होने पर गर्व था। पर गुरु होते हुए… (गुरु होते हुए भी)।’’