T20 वर्ल्ड कप: हार्दिक पंड्या के चयन को लेकर सेलेक्टर्स पर भड़के गौतम गंभीर, कहा- वह प्लेइंग इलेवन में जगह पाने के हकदार नहीं

गंभीर ने कहा, ‘अगर वह विश्व कप के दौरान गेंदबाजी नहीं करते हैं तो मेरे लिए उन्हें अंतिम एकादश में रखना वास्तव में काफी मुश्किल है। अगर वह गेंदबाजी नहीं करते हैं तो मुझे नहीं लगता कि वह भारत की सर्वश्रेष्ठ प्लेइंग इलेवन का हिस्सा हो सकते हैं।’

Gautam Gambhir Hardik Pandya T20 World Cup IPL 2021 MI गौतम गंभीर को लगता है कि हार्दिक अगर टी20 विश्व कप टीम में ‘शुद्ध बल्लेबाज’ ही बने रहते तो वह भारत की प्लेइंग इलेवन में जगह पाने के हकदार नहीं हैं।

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) की चयन समिति ने ‘ऑलराउंडर’ हार्दिक पंड्या को टी20 विश्व कप 2021 के लिए भारत की 15 सदस्यीय टीम में शामिल किया है। हालांकि, अब तक बड़ौदा के इस क्रिकेटर ने सिर्फ ‘शुद्ध बल्लेबाज’ के रूप में ही प्रदर्शन किया है। इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2021 में मुंबई इंडियंस (एमआई) ने हार्दिक पंड्या से गेंदबाजी नहीं कराई है। इस बात से गौतम गंभीर समेत भारतीय क्रिकेट टीम के कई फैंस और शुभचिंतक हैं।

हार्दिक पंड्या को आईपीएल में गेंदबाजी फिर से शुरू करनी थी, लेकिन मुंबई इंडियंस ने आईपीएल 2021 के यूएई चरण में खेले 6 में से एक मैच में भी उनसे गेंदबाजी नहीं कराई है। फ्रैंचाइजी के कोच महेला जयवर्द्धने का कहना है कि हार्दिक अभी गेंदबाजी के लिए तैयार नहीं हैं। उन्हें गेंदबाजी की जिम्मेदारी इसलिए नहीं दी गई है, क्योंकि प्रबंधन उन पर अतिरिक्त काम का बोझ नहीं डालना चाहता।

हालांकि, टी20 वर्ल्ड कप 2021 में उनकी भूमिका के लिए इसका क्या मतलब है? दरअसल, बीसीसीआई चयन समिति ने जब हार्दिक को 15 सदस्यीय टीम में चुना था, तो उन्होंने स्पष्ट रूप से कहा था कि 27 साल का यह ऑलराउंडर टीम के लिए हर मैच में 4 ओवर फेंकने के लिए तैयार है। हालांकि, जहां तक ​​तैयारियों का सवाल है, ऐसा बिल्कुल नहीं है।

गौतम गंभीर ने कहा, ‘मुंबई इंडियंस की बल्लेबाजी में हार्दिक पंड्या एक बड़ी समस्या हैं। उन्होंने कोई क्रिकेट नहीं खेली है, वह अब मेरे लिए सिर्फ एक फॉर्मेट के खिलाड़ी हैं। वह केवल सफेद गेंद की क्रिकेट खेलते हैं। उन्होंने इस साल अच्छा प्रदर्शन नहीं किया है। वह टी20 वर्ल्ड कप टीम में शामिल किए गए हैं, जबकि उन्होंने गेंदबाजी भी नहीं की है। यह बहुत बड़ी आश्चर्य की बात है।’

उन्होंने ईएसपीएन क्रिकइंफो पर कहा, ‘चयनकर्ताओं को शायद इसका जवाब देना होगा कि क्या हार्दिक पंड्या वास्तव में टी20 वर्ल्ड कप में 4 ओवर फेंकने जा रहे हैं, क्या वह ऐसा करने की स्थिति में है? अगर वह विश्व कप में गेंदबाजी करने का फैसला करते हैं तो उन्हें अभी से गेंदबाजी शुरू करनी होगी, फिर चाहे वह हर मैच में एक या दो ओवर ही फेंके, ताकि विश्व कप के दौरान वह प्रदर्शन कर पाएं, जहां भारत जीत की ओर देख रहा है।’

गौतम गंभीर को लगता है कि हार्दिक अगर टी20 विश्व कप टीम में ‘शुद्ध बल्लेबाज’ ही बने रहते तो वह भारत की प्लेइंग इलेवन में जगह पाने के हकदार नहीं हैं। गौतम गंभीर ने कहा, ‘अगर वह विश्व कप के दौरान गेंदबाजी नहीं करते हैं तो मेरे लिए उन्हें अंतिम एकादश में रखना वास्तव में काफी मुश्किल है। अगर वह गेंदबाजी नहीं करते हैं तो मुझे नहीं लगता कि वह भारत की सर्वश्रेष्ठ प्लेइंग इलेवन का हिस्सा हो सकते हैं।’