Tata Punch से Mahindra Thar तक…ये हैं देश की टॉप-10 सेफ गाड़ियां, जानें- किसकी कैसी रेटिंग

नई टाटा पंच ने एडल्ट ऑक्यूपेंट सेफ्टी (वयस्क यात्रियों की सुरक्षा) के मामले में कुल 17 में से 16.45 अंक हासिल किए। चाइल्ड ऑक्यूपेंट प्रोटेक्शन में इसने 49 अंकों में से 40.89 अंक पाए।

mahindra thar, tata altroz, tata punch तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फाइल फोटोः volkswagen.co.in/cars.tatamotors.com/auto.mahindra.com)

शक्ति नाथ झा।

भारतीय कार खरीदार हमेशा से गाड़ी की कीमत को लेकर सचेत रहे हैं। शायद यही वजह है कि कुछ साल पहले तक नई कार खरीदते समय वाहनों की सुरक्षा को एक महत्वपूर्ण पैमाना नहीं माना जाता था और इसलिए कार निर्माता भी इसे अनदेखा कर देते थे। हालांकि, हाल-फिलहाल के सालों में लोगों की धारणा बदली, जिसके पीछे ग्लोबल एनसीएपी (न्यू कार असेसमेंट प्रोग्राम) क्रैश टेस्ट में कुछ भारतीय कारों का प्रभावशाली प्रदर्शन भी रहा।

SaferCarsForIndia (भारत के लिए सुरक्षित गाड़ियां) अभियान के तहत ग्लोबल एनसीएपी ने अब तक (अक्टूबर 2021 तक) लगभग 30 मेड-इन-इंडिया कारों का क्रैश-टेस्ट किया है। इस स्टोरी में हमने उनके ग्लोबल एनसीएपी क्रैश टेस्ट स्कोर के साथ भारत में टॉप-10 सबसे सेफ गाड़ियों की एक लिस्ट आपसे शेयर कर रहे हैं:

Global NCAP Crash Test Rating में भारत की शीर्ष 10 सुरक्षित गाड़ियां:

टाटा पंच हाल में ग्लोबल एनसीएपी क्रैश टेस्ट में एडल्ट ऑक्यूपेंट प्रोटेक्शन के लिए फुल 5-स्टार रेटिंग और चाइल्ड ऑक्यूपेंट प्रोटेक्शन के लिए 4-स्टार से सम्मानित की गई। यह अब सबसे सुरक्षित मेड-इन-इंडिया कार है। नई टाटा पंच ने एडल्ट ऑक्यूपेंट सेफ्टी (वयस्क यात्रियों की सुरक्षा) के मामले में कुल 17 में से 16.45 अंक हासिल किए। चाइल्ड ऑक्यूपेंट प्रोटेक्शन में इसने 49 अंकों में से 40.89 अंक पाए। यही नहीं पंच के बॉडीशेल को स्थिर और आगे के भार को झेलने में सक्षम के रूप में रेट किया गया है।