The Hundred Mens: राजस्थान रॉयल्स के ऑलराउंडर ने पहले झटके 3 विकेट, फिर 20 गेंद में पचासा ठोक रचा इतिहास; फाइनल में पहुंची टीम

इंग्लैंड के ऑलराउंडर लियाम लिविंगस्टोन ने पहले 25 रन देकर 3 विकेट लिए। बाद में बल्लेबाजी के दौरान 20 गेंद में पचासा ठोक दिया। द हंड्रेड मेन्स कॉम्पीटिशन 2021 में यह सबसे तेज अर्धशतक है। लियाम लिविंगस्टोन के नाम टूर्नामेंट के एक मैच में सबसे ज्यादा रन और सबसे ज्यादा छक्के लगाने का भी रिकॉर्ड हो गया है।

Liam Livingstone The Hundred Mens Competition 2021 most runs most sixes fastest fifty इंग्लैंड के ऑलराउंडर लियाम लिविंगस्टोन ने पहले 25 रन देकर 3 विकेट लिए। बाद में बल्लेबाजी के दौरान 20 गेंद में पचासा ठोक दिया। (सोर्स- ट्विटर)

द हंड्रेड मेन्स कॉम्पीटिशन 2021 (The Hundred Mens Competition 2021) के 31वें मैच में इंग्लैंड के ऑलराउंडर लियाम लिविंगस्टोन ने इतिहास रचा। उन्होंने 20 गेंद में फिफ्टी ठोकी। टूर्नामेंट में यह सबसे तेज अर्धशतक है। उनके प्रदर्शन के दम पर बर्मिंघम फोनिक्स (Birmingham Phoenix) ने नॉर्दर्न सुपरचार्जर्स (Northern Superchargers) के खिलाफ 8 विकेट से जीत हासिल की और फाइनल में अपनी जगह पक्की की।

लीड्स के हेडिंग्ले में खेले गए इस मैच में नार्दर्न सुपरचार्जर्स ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 100 गेंद में 8 विकेट पर 143 रन बनाए। लक्ष्य का पीछा करने उतरी बर्मिंघम फोनिक्स ने 74 गेंद में 2 विकेट पर 147 रन बना मैच अपने नाम कर लिया। बर्मिंघम फोनिक्स की शुरुआत खराब रही। उसका पहला विकेट चौथी गेंद पर 6 रन के स्कोर पर ही गिर गया। विल समीद (Will Smeed) खाता भी नहीं खोल पाए। इसके बाद उनकी जगह आए लियाम लिविंगस्टोन ने ओपनर फिन एलन के साथ 51 गेंद पर 106 रन की साझेदारी की।

फिन एलन 4 चौके और 2 छक्के की मदद से 26 गेंद में 42 रन बनाए। वहीं, लियाम लिविंगस्टोन 40 गेंद में 10 छक्के और 3 चौके की मदद से नाबाद 92 रन बनाए। लियाम लिविंगस्टोन के नाम टूर्नामेंट के एक मैच में सबसे ज्यादा रन और सबसे ज्यादा छक्के लगाने का भी रिकॉर्ड हो गया है। लियाम लिविंगस्टोन का खेल देखकर राजस्थान रॉयल्स का टीम मैनेजमेंट बहुत खुश है।

लिविंगस्टोन इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में राजस्थान रॉयल्स का ही हिस्सा हैं। फ्रैंचाइजी ने उन्हे आईपीएल ऑक्शन 2021 के लिए 75 लाख रुपए में खरीदा था। बर्मिंघम फोनिक्स अब शनिवार को लॉर्ड्स में फाइनल खेलेगी। इस मैच में बर्मिंघम फोनिक्स ने टॉस जीत गेंदबाजी चुनी। उसे ग्रुप स्टेज में शीर्ष पर रहने के कारण फाइनल में पहुंचने के लिए यह मुकाबला जीतना या टाई कराना था।

हालांकि, नॉर्दर्न सुपरचार्जर्स के सलामी बल्लेबाजों क्रिस लिन और टॉम कोहलर ने पहली 25 गेंद में 65 रन ठोक कर बर्मिंघम की उम्मीदों को तगड़ा झटका दिया। इस जोड़ी ने पहले विकेट के लिए 54 गेंद में ही 95 रन जोड़ लिए।

जब लग रहा था कि सुपरचार्जर्स रनों का पहाड़ खड़ा कर देगा, तभी बर्मिंघम फोनिक्स के कप्तान लियाम लिविंगस्टोन, लेग स्पिनर इमरान ताहिर और बेनी होवेल ने टीम की मैच में वापसी कराई।

तीनों ने अगले 46 गेंद में सुपरचार्जर्स के 7 बल्लेबाजों को पवेलियन की राह दिखाई। यही वजह रही है कि सुपरचार्जर्स 143 रन ही बना पाई। लिविंगस्टोन ने 25 रन देकर 3 विकेट लिए। वह प्लेयर ऑफ द मैच भी चुने गए।