TMKOC एक्टर अतुल विरकर को कभी बेचने पड़ते थे न्यूज पेपर और पापड़, अब बेटे की गंभीर बीमारी से हैं परेशान

‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ एक्टर अतुल विरकर पर इन दिनों मुसीबतों का पहाड़ टूट पड़ा है। दरअसल, अतुल विरकर के बेटे को जहां एक तरफ गंभीर बीमारी है तो वहीं वह लॉकडाउन में आर्थिक तंगी से भी जूझ रहे हैं।

atul virkar, tmkoc actor, atul virkar news

‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ शो ने अपनी कहानी और किरदार के जरिए लोगों का दिल जीतने में कोई कसर नहीं छोड़ी है। तारक मेहता का उल्टा चश्मा टीवी की दुनिया में सबसे लंबे समय तक चलने वाला कार्यक्रम है। इसका हर एक किरदार भी दर्शकों का पसंदीदा है। लेकिन शो के ही एक किरदार अतुल विरकर पर इन दिनों मुसीबतों का पहाड़ टूट पड़ा है। दरअसल, अतुल विरकर के बेटे को जहां एक तरफ गंभीर बीमारी है तो वहीं वह लॉकडाउन में आर्थिक तंगी से भी जूझ रहे हैं। इस बात का जिक्र अतुल विरकर ने टाइम्स ऑफ इंडिया को दिये इंटरव्यू में किया था।

तारक मेहता का उल्टा चश्मा और कई मराठी फिल्मों में काम कर चुके अतुल विरकर ने बताया कि उनका 2 साल का बेटा AHDS (एलन हेरंडन डडले सिंड्रोम) से जूझ रहा है। उन्होंने इंटरव्यू के दौरान कहा कि यूं तो उन्हें किसी से भी कोई उम्मीद नहीं है, लेकिन वह चाहते हैं कि इंडस्ट्री के लोग इस कठिन समय में उनकी मदद करें।

अतुल विरकर ने अपने इंटरव्यू में कहा, “मैं यह नहीं कहूंगा कि लॉकडाउन का मुझपर असर नहीं हुआ है। इसका सभी पर काफी प्रभाव पड़ा है। लेकिन मेरे मामले में थोड़ा अंतर है, क्योंकि मुझपर एक बच्चे की जिम्मेदारी है, जो इस वक्त गंभीर बीमारी से परेशान है। मेरा बेटा दूसरे बच्चों की तरह ठीक से खड़ा नहीं हो सकता है। वह हमेशा बेड पर ही पड़ा रहता है। हम उसका इलाज करवा रहे हैं, लेकिन भारत में उससे जुड़ी कोई दवा नहीं है।”

अतुल विरकर ने इंटरव्यू में आगे बताया, “मुझे कुछ डॉक्टर से पता चला कि मेरे बेटे का इलाज कराने का केवल एक ही रास्ता है, जो कि नीदरलैंड से दवाइयां मंगवाना है। यही एक ऐसा देश है जो AHDS के मरीजों के लिए दवाइयां बनाता है। मैं इस चीज के लिए बहुत मेहनत कर रहा हूं और फंड्स भी इकट्ठा कर रहा हूं, जिससे मैं जल्द से जल्द अपने बेटे का इलाज करवा सकूं।”

अतुल विरकर ने आगे कहा, “मुझे किसी से भी उम्मीद नहीं है, लेकिन मैं चाहता हूं कि इंडस्ट्री के मेरे दोस्त इस मुश्किल घड़ी में मेरी मदद करें। मैं कड़ी मेहनत करना चाहता हूं, जिससे मेरी आर्थिक तंगी दूर हो जाए और मैं अपने बेटे को ठीक होने में मदद कर सकूं।” बता दें कि अतुल विरकर ने इंटरव्यू के दौरान बताया था कि उन्होंने जिंदगी में काफी संघर्ष किया है।

अतुल विरकर ने अपने इंटरव्यू में कहा कि लोग मुझे इंडस्ट्री में पंडित के नाम से जानते हैं, क्योंकि मैंने फिल्म के मुहुर्त निकलवाने में मदद की है और सेट पर कई बार पूजा भी की है। लेकिन जिंदगी में एक वक्त ऐसा था जब मुझे गुजारा करने के लिए न्यूजपेपर, अगरबत्ती और पापड़ बेचने पड़ते थे। वह मेरे और मेरे परिवार के लिए बहुत ही कठिन समय था।