VIDEO: कैच पकड़ने के लिए आपस में भिड़े पाकिस्तानी प्लेयर्स, हुई जोरदार टक्कर और फिर…

एशिया कप 2022 के फाइनल मुकाबले में पाकिस्तान को श्रीलंका के हाथों हार का सामना पड़ा है. रविवार को दुबई इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में खेले गए फाइनल मुकाबले में श्रीलंकाई टीम ने पाकिस्तान को 23 रनों से पराजित किया. पाकिस्तान को जीत के लिए 171 रनों का टारगेट मिला था लेकिन उसकी पूरी टीम 20 ओवर में 147 रनों पर सिमट गई. इस जीत के साथ ही श्रीलंका ने छठी बार एशिया कप का खिताब अपने नाम कर लिया.

शादाब खान के लिए रहा खराब दिन

फाइनल मुकाबला पाकिस्तानी खिलाड़ी शादाब खान के लिए किसी बुरे सपने से कम नहीं रहा. शादाब के खराब दिन की शुरुआत उस वक्त हो गई थी जब वह एक ओवरथ्रो को रोकने की कोशिश करते हुए खुद को नियंत्रित नहीं सके और मैदान पर फिसल गए. इसी दौरान गेंद उसके सिर के पास जा लगी. हालांकि अनिवार्य कंकशन टेस्ट के बाद शादाब खेलने के लिए फिर से तैयार हुए और उन्होंने अपना स्पेल पूरा किया, यहां तक ​​कि उन्हें एक कामयाबी भी हासिल हुई.

pak

जब पाकिस्तान के लिए मुकाबला नियंत्रण में लग रहा था तभी शादाब खान ने 18वें ओवर में हारिस रऊफ की तीसरी गेंद पर लॉन्ग ऑन पर भानुका राजपक्षे का एक महत्वपूर्ण कैच छोड़ा. उस समय भानुका राजपक्षे 45 रन पर खेल रहे थे. शादाब ने इसके बाद एक और कैच टपकाया. अबकी बार तो कैच पकड़ने के लिए वह अपने साथी खिलाड़ी आसिफ अली से जा भिड़े. यह वाकया पारी के 19वें ओवर में घटा.

आसिफ अली के साथ हुई टक्कर

उस ओवर में मोहम्मद हसनैन की छठी गेंद पर भानुका राजपक्षे ने डीप मिडविकेट पर बड़ा शॉट खेला. इस कैच को लपकने के लिए आसिफ अली और शादाब खान दौड़ लगा रहे थे. आसिफ ने कैच पकड़ लियाा था, इसी दौरान शादाब ने भी जोश में आकर डाइव लगा कैच पकड़ने का प्रयास किया. नतीजतन दोनों खिलाड़ी की टक्कर हो गई और गेंद भी छिटककर बाउंड्री के बाहर चली गई जिसके चलते राजपक्षे को छह रन मिले. जमीन पर गिरने के कारण शादाब को इस दौरान गर्दन के पास चोट आई और खेल  भी कुछ काफी देर तक रूका रहा.

राजपक्षे ने खेली यादगार पारी

टॉस हारकर बल्लेबाजी करने उतरी श्रीलंकाई टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही थी उसने एक समय 58 रन पर पांच विकेट खो दिए थे. इसके बाद वानिंदु हसारंगा और भानुका राजपक्षे ने 58 रनों की साझेदारी कर श्रीलंका को संकट से उबारा. हसारंगा ने 21 बॉल पर 36 रनों की पारी खेलाी जिसमें पांच चौके और एक छक्का शामिल था. हसारंगा के आउट होने के बाद भी राजपक्षे ने तूफानी बैटिंग जारी रखी जिसके चलते श्रीलंका छह विकेट पर 170 रन तक पहुंच पाया. भानुका राजपक्षे 45 बॉल पर 71 रन बनाकर नाबाद रहे. इस दौरान उन्होंने छह चौके और तीन छक्के लगाए.

रिजवान का अर्धशतक गया बेकार

जवाब में पाकिस्तान की टीम 147 रनों पर ढेर हो गई. पाकिस्तान की भी शरुआत खराब रही और उसने बाबर आजम (5) और फखर जमां (0) का विकेट सस्ते में गंवा दिया. इसके बाद मोहम्मद रिजवान और इफ्तिखार अहमद ने 71 रनों की पार्टनरशिप कर पारी को संभालने की कोशिश की. जब इफ्तिखार अहमद 32 रनों के स्कोर पर आउट हुए तो नेट रन-रेट का प्रेशर पाकिस्तान पर  काफी बढ़ चुका था. बाद में मोहम्मद रिजवान भी 55 रन बनाकर आउट हो गए जिसके चलते पाकिस्तान की टीम पूरी तरह मैच से बाहर हो गई.