World Test Championship Final: भारत के खिलाफ करियर का अंतिम मैच खेलेगा दिग्गज, न्यूजीलैंड के लिए बनाए कई रिकॉर्ड्स

दक्षिण अफ्रीका में जन्में वॉटलिंग ने अगले सत्र के लिए न्यूजीलैंड के 20 अनुबंधित खिलाड़ियों की शुक्रवार को जारी होने वाली सूची से पहले यह घोषणा की है। 35 साल के वॉटलिंग ने न्यूजीलैंड के लिए हाल में टेस्ट मैचों में अच्छे प्रदर्शन में अहम भूमिका निभाई।

BJ Watling, international cricket, World Test Championship Final 2021, World Test Championship Final, india vs new zealand

न्यूजीलैंड के अनुभवी विकेटकीपर बल्लेबाज बीजे वॉटलिंग ने इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर दिया है। वॉटलिंग इंग्लैंड के साउथैम्पटन में आखिरी बार अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने उतरेंगे। वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल मुकाबला साउथैम्पटन में 18 से 22 जून तक भारत और न्यूजीलैंड के बीच खेला जाएगा। वॉटलिंग ने 12 साल पहले पाकिस्तान के खिलाफ पहला टेस्ट खेला था। अब उसके चिर प्रतिद्वंदी भारत के खिलाफ अपना आखिरी मैच खेलेंगे।

दक्षिण अफ्रीका में जन्में वॉटलिंग ने अगले सत्र के लिए न्यूजीलैंड के 20 अनुबंधित खिलाड़ियों की शुक्रवार को जारी होने वाली सूची से पहले यह घोषणा की है। 35 साल के वॉटलिंग ने न्यूजीलैंड के लिए हाल में टेस्ट मैचों में अच्छे प्रदर्शन में अहम भूमिका निभाई। उन्होंने 2009 में सलामी बल्लेबाज और कामचलाऊ विकेटकीपर के रूप में करियर की शुरुआत की, लेकिन 2013 में जब ब्रैंडन मैकुलम ने टेस्ट मैचों में विकेटकीपिंग करनी छोड़ दी तब वॉटलिंग विकेटकीपिंग के लिए पहली पसंद गए। वे न्यूजीलैंड के लिए टेस्ट में सबसे ज्यादा शिकार करने वाले विकेटकीपर हैं। इसके अलावा बतौर विकेटकीपर देश के लिए सबसे ज्यादा रन बनाए। वहीं, सबसे बड़ी पारी खेलने वाले न्यूजीलैंड के विकेटकीपर भी हैं।

वॉटलिंग के करियर की बात करें तो उन्होंने अब तक 73 टेस्ट मैचों में 38.11 की औसत से 3773 रन बनाए हैं जिसमें आठ शतक और 19 अर्धशतक शामिल हैं। उन्होंने विकेटकीपर के रूप में 257 शिकार किए हैं जो न्यूजीलैंड का रिकार्ड है। इनमें 249 कैच शामिल हैं। वॉटलिंग को छोटे प्रारूप में कम मौके मिले। उन्होंने केवल 28 वनडे और पांच टी20 मैच खेले हैं। इस दौरान वॉटलिंग ने वनडे में 24.91 की औसत 573 रन बनाए। वहीं टी20 में उनके नाम 38 रन हैं।

भारत के खिलाफ वॉटलिंग का प्रदर्शन देखें तो उनका प्रदर्शन कुछ खास नहीं रहा है। वे 8 टेस्ट मैचों 22.41 की औसत से 269 रन ही बना सके। इस दौरान उनका उच्चतम स्कोर 124 रन है। उन्होंने 34 कैच लपके हैं। वॉटलिंग ने भारत में 4 मैचों में 19.83 की औसत से 119 और न्यूजीलैंड में टीम इंडिया के खिलाफ 4 मैचों में 150 रन बनाए हैं। उन्होंने भारतीय टीम के खिलाफ एकमात्र शतक 8 जून 2014 को वेलिंगटन में लगाया था। तब उन्होंने दूसरी पारी में 124 रन बनाए थे। इसके अलावा वे एक अर्धशतक भी नहीं लगा सके।